कोरोना से हुई थी आंगनवाड़ी सेविका की मौत, परिवार को ठाकरे परिवार की तरफ से 50 लाख रूपए

अमरावती: अपने कर्तव्य निर्वाह के दौरान कोरोना की वजह से आंगनवड़ी सेविका उषाताई पुंड की मौत हो गई थी। पुंड के परिवार को महाविकास आघाडी आघाडी सरकार ने 50 लाख रुपए का चेक दिया है। राज्य में यह पहली मदद है, राज्य की महिला व बाल कल्याण मंत्री व जिला के पालकमंत्री यशोमती ठाकुर के हाथो यह चेक पुंड के परिवार को सौंपा गया। गया। सरकार से मिली इस मदद से परिवार के सदस्यों की आंखे नम हो गई। घर की कमाऊ महिला की मौत होने के बाद परिवार की दयनीय स्थिति हो गई थी। हालांकि मदद मिलने के बाद परिवार ने सरकार को धन्यवाद दिया।

कम वेतन पर काम करने वाली आंगनवाड़ी सेविका वर्ग कोरोना काल मएन अपनी जान की परवाह किए बिना आंगनवाड़ी के बच्चो के घर-घर में जाकर आहार पहुंचाया। इस काम के दौरान 8 आंगनवाडी सेविका की कोरोना से मौत हो गई। इसमे से एक अमरावती जिले के रामा की उषाताई पुंड थी। कोरोना काल में संचारबंदी के दौरान कोई बाहर नहीं आता था। उस समय में उषाताई घर घर जाकर बच्चो को भोजन पहुंचाती थी। इसी दौरान उन्हें कोरोना संक्रमण हो गया और इलाज के दौरान उनकी मौत हो गई।

पालकमंत्री यशोमती ठाकुर ने उषाताई के घर जाकर परिवार को सांत्वना दिया। इसके साथ ही 50 लाख रुपए का चेक भी सौंपा। कोरोना योद्धा के साथ सरकार पूरी तरह से खड़ी है यह प्रतिक्रिया भी ठाकुर ने दी।

You might also like

Comments are closed.