Ajit Pawar | दूसरे राज्‍यों से आने वाले लोगों के लिए RTPCR अनिवार्य ; स्‍कूलों को लेकर अजीत पवार ने कहा…..

मुंबई : Ajit Pawar | कोरोना की दूसरी लहर के बाद अब दक्षिण अफ्रीका में मिले ओमिक्रॉन वैरिएंट (Omicron Variants) की वजह से दुनियाभर में लोग चिंतित है. इसे देखते हुए केंद्र सरकार (central government) ने सतर्कता के तौर पर सभी राज्‍यों को निर्देश दिया था. लेकिन केंद्र सरकार और राज्‍य सरकार (State government) के नियमों को लेकर भ्रम की स्थिति पैदा हो गई है. इस पर राज्‍य के उपमुख्‍यमंत्री अजीत पवार (Ajit Pawar) ने अपनी प्रतिक्रिया दी है.

 

अजीत पवार (Ajit Pawar) ने कहा कि दूसरे राज्‍यों से महाराष्‍ट्र आने वाले लोगों के लिए प्रतिबंधों में बदलाव किया गया है. केंद्र और राज्‍य सरकार के नियमों के अंतर को दूर किया गया है. ओमिक्रॉन को लेकर हमें ज्‍यादा सावधानी बरतनी चाहिए. दूसरे राज्‍यों से आने वाले लोगों के लिए आरटीपीसीआर (RTPCR) अनिवार्य कर दिया गया है. अब केंद्र से बात करके नई नियमावली सामने लाई जाएगी.

 

बुधवार को केंद्र सरकार और हमारे नियमों में कुछ अंतर था. लेकिन देर रात एक जैसे नियम बनाने पर चर्चा हुई. विदेशों से देश के एयरपोर्ट पर आये यात्रियों के लिए एक जैसे नियम बनाने का प्रयास किया है. देश के तौर पर एक नियम होना चाहिए. अन्‍य राज्‍यों से यहां आने वाले नागरिकों को 48 घंटे में आरटीपीसीआर रिपोर्ट दिखाना होगा. आप दूसरे राज्‍य जाते है उस वक्‍त भी आरटीपीसीआर रिपोर्ट लगता है और यहां आने के लिए भी लगता है.

 

राज्‍य के स्‍कूलों को लेकर वर्षा गायकवाड़ (Varsha Gaikwad) से बात हुई है. जब 1 दिसंबर से स्‍कूल खोलने की बात हुई उस वक्‍त नया संक्रमण नहीं था. बच्‍चों का स्‍वास्‍थ्‍य महत्‍वपूर्ण है. कुछ लोग कह रहे है कि 15 दिसंबर से स्‍कूल खुलेगी. मुंबई मनपा (Mumbai Municipal Corporation) ने भी यही निर्णय लिया है. मुंबई और अन्‍य मनपा का कानून अलग-अलग है.

 

 

 

Devendra Fadnavis | 2024 में केंद्र में मोदी सरकार आएगी, विरोधियों में आपस में मैच जारी : देवेंद्र फडणवीस

 

Chitra Wagh | रक्षकों को भकक्ष बनाने वाली पॉलिसी स्‍वीकार करेंगे क्‍या ?, चित्रा वाघ ने गृहमंत्री को लिखा पत्र

You might also like

Comments are closed.