Ajit Pawar | सहकारी बैंकों में केंद्र के हस्तक्षेप के खिलाफ कोर्ट जाएंगे : अजीत पवार 

उपमुख्यमंत्री अजीत पवार

बारामती (Baramati News), 18 सितंबर : Ajit Pawar | जिला मध्यवर्ती सहकारी बैंकों (District Central Co-operative Bank) को लेकर केंद्र सरकार (Central Government) ने काफी बदलाव किया है।  जिले  को ऐसे बैंकों को चलाने का अधिकार खत्म कर दिया गया है।  अध्यक्ष और संचालक की नियुक्ति में केंद्र का हस्तछेप बढ़ गया है।  इसकी वजह से कई समस्या खड़ी हो गई है।  इसके खिलाफ हम कोर्ट (Court) जाएंगे।  यह जानकारी उपमुख्यमंत्री अजीत पवार (Ajit Pawar) ने दी है।
बारामती में शनिवार को एक कार्यक्रम में उपमुख्यमंत्री अजीत पवार (Deputy Chief Minister Ajit Pawar) बोल रहे थे।  उन्होंने कहा कि पुणे (Pune) जिला ,मध्यवर्ती बैंक हमने सही तरीके से चलाया है।  महाराष्ट्र (Maharashtra) के पहले पांच बैंकों में पुणे जिला मध्यवर्ती बैंक शामिल है।  लेकिन सहकारी बैंकों का मैनेजमेंट खुद की हाथों में लेने का केंद्र प्रयास कर रही है।  इसमें वकीलों से क़ानूनी सलाह लेकर सहकारिता विभाग दवारा आगे कोर्ट में किस तरह से जाना है, इसे लेकर राज्य सरकार (State Government) सलाह ले रही है।

आप जरा मेरी गति में काम करे (Ajit Pawar)

इस कार्यक्रम में अजीत पवार ने बारामती (Baramati) शहर व तालुका में चल रहे विकास कार्यों और प्रोजेक्ट की जानकारी ली।  इस दौरान मेडद ,में नया बाजार समिति का पेट्रोल पंप (Petrol pump) बन रहा है।  इस पेट्रोल पंप की खरीद बिक्री का काम संघ को दिया गया है।  इस पर अजीत पवार (Ajit Pawar) ने पूछा कि इसका काम कहा तक पहुंचा है ? काम का क्या हुआ ? इस पर एक अधिकारी ने कहा कि सार्वजनिक निर्माण कार्य विभाग के सीनियर अधिकारी से परमिशन मिलना बाकी है।
इस पर अजीत पवार ने संबंधित अधिकारी को निशाने पर लिया। उन्होंने कहा कि सीनियर अधिकारी आपके बगल में बैठते है।  कुछ भी कारण बता रहे हो क्या ? उनसे मुलाकात करे , उन्हें दिक्कत बताये, आप में से कुछ मेरी गति से काम करे।

 

 

 

Babul Supriyo | बाबुल सुप्रियो हुए TMC में शामिल, मिल सकता है बड़ा इनाम

BJP Vs NCP | अनिल देशमुख को छिपाने के लिए भी राष्ट्रवादी ने सुरक्षित जगह दी है क्या ? भाजपा नेता का सवाल

You might also like

Comments are closed.