Ajit Pawar | केंद्र को सिर्फ केंद्र का काम करना चाहिए, अजित पवार ने जताई नाराजगी

उपमुख्यमंत्री अजित पवार

पुणेसमाचार : लखनऊ में जीएसटी परिषद (GST Council) की बैठक को लेकर राज्य के उपमुख्यमंत्री अजित पवार (Ajit Pawar) ने केंद्र सरकार (Central Government) की आलोचना की है। साथ ही सवाल उठाते हुए उन्होने पेट्रोल-डीजल (petrol-diesel) के संदर्भ में चल रही चर्चाओं पर केंद्र सरकार को सुनाया है। अजित पवार (Ajit Pawar) ने कहा कि अगर पेट्रोल और डीजल को जीएसटी में शामिल किया जाता है तो महाराष्ट्र (Maharashtra) इस पर स्टैंड लेगा। उन्होंने स्पष्ट किया कि राज्य सरकार (State Government) की कर लगाने के अधिकार पर कोई प्रहार न हो, ऐसी राज्य सरकार की भूमिका होगी।

 

अजित पवार (Ajit Pawar) ने कहा कि केंद्र का काम केंद्र करे, लेकिन राज्य के अधिकारों पर हमला न हो, राज्य के अधिकार जैसे हैं वैसे ही रहें। राज्य को स्टांप ड्यूटी (Stamp Duty) और जीएसटी (GST) से टैक्स मिलता है। जो तय है वह योजना के अनुसार जारी रखें। अजित पवार ने यह भी कहा कि कोरोना को लेकर पहले दी गई रियायतें दी जानी चाहिए।

 

अगर हम पेट्रोल और डीजल पर स्टैंड लेते हैं, तो मतभेद हो सकता है। अजित पवार ने यह भी कहा कि टैक्स (Tax) कम करने का अधिकार राज्य सरकार के पास है और अगर इस पर हथौड़ा चलता है तो हम स्टैंड लेंगे। साथ ही उन्होंने लखनऊ (Lucknow) में हो रही जीएसटी काउंसिल की बैठक पर भी सवाल उठाया।

 

 

Maharashtra Recruitment Reservation | नाशिक सहित आठ आदिवासी जिलों में पद भर्ती आरक्षण होगा लागू

Surekha Punekar | राष्ट्रवादी में ही प्रवेश क्यों ? सुरेखा पुणेकर ने बताया ‘कारण’

You might also like

Comments are closed.