अहमदनगर : प्रेम प्रकरण में विवाद के बाद रेखा जरे की हत्या ; पुलिस जांच में जानकारी सामने आई 

 

अहमदनगर, 9 जून : यशस्विनी महिला ब्रिगेड की अध्यक्षा व सामाजिक कार्यकर्ता रेखा जरे की हत्या प्रेम प्रकरण के विवाद में होने की जानकारी सामने आई है।  इस हत्या मामले के मुख्य आरोपी बाल बोठे दवारा घटना को अंजाम दिए जाने की जानकारी पुलिस जांच में सामने आई है।  जांच अधिकारी और उपविभागीय पुलिस अधिकारी अजीत पाटिल ने यह जानकारी दी है।  इस मामले में बाल  बोठे के साथ कुल 7 आरोपियों के खिलाफ पारनेर कोर्ट में मंगलवार को चार्जशीट फाइल किया गया।

30 नवंबर 2020 को अहमदनगर-पुणे मार्ग में जातेगांव घाट  तालुका में रेखा जरे की गला चिर कर निर्दयता से हत्या कर दी गई थी।  इस मामले में जरे की मां ने केस दर्ज करवाया था।  जरे पर हमला करने वालों में से एक की तस्वीर जरे के बेटे ने ले ली थी।  इस फोटो के आधार पर हत्या के दूसरे दिन ही दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया था।  दोनों से की गई पूछताछ में मिली जानकारी के अनुसार और तीन लोगों को गिरफ्तार किया गया।  उनसे पूछताछ में पता चला कि जरे की हत्या का मुख्य आरोपी बाल  बोठे है. सागर भिंगारदिवे के जरिये उसने जरे की हत्या की सुपारी दी थी।  इसके बाद मोबाइल सीडीआर के जरिये रेखा जरे की हत्या का मुख्य आरोपी बाल  बोठे के होने की बात साफ हो गई।

मंगलवार को  बोठे सहित महेश वसंत तनपुरे (नगर ), जनार्दन अकुला चंद्रप्पा, राजशेखर अंजय चाकली, पी अनंतलक्ष्मी, व्यंकट सुब्बाचारी, शेख इस्माइल शेख अली, अब्दुल रहमान अब्दुल आरिफ (सभी हैदराबाद ) इन साथ आरोपियों के खिलाफ चार्जशीट फाइल किया गया है।   बोठे के खिलाफ प्रेम प्रकरण में विवाद के बाद साजिश रचने और हत्या की सुपारी देकर रेखा जरे की हत्या कराने और अन्य 6 आरोपियों के खिलाफ  बोठे को फरार होने में मदद करने, आश्रय देने जैसे विभिन्न आरोप इस चार्जशीट में लगाए गए है।

रेखा जरे हत्या मामले में फ़िलहाल जेल में बंद ज्ञानेश्वर उर्फ़ गुड्डू शिवाजी शिंदे (श्रीरामपुर ), फिरोज राजू शेख (राहुरी ), आदित्य सुधाकर चोलके (कोल्हार बुद्रुक ), सागर भिंगारदिवे व ऋषिकेश पवार (नगर )  के खिलाफ इससे पहले 26 फरवरी को चार्जशीट फाइल किया गया था।
अहमदनगर शहर में हनी ट्रेप मामले में न्यूज़ छापने की नाराजगी में रेखा जरे की हत्या की बात कही जा रही थी।  लेकिन पुलिस ने परिस्थिति जन्य मिले सबूतों के आधार पर जांच की और हत्या की मूल वजह तक पहुंच गई है।  जरे के साथ चल रहे प्रेम प्रकरण में हर दिन होने वाले विवाद से तंग आकर  बोठे ने जरे की हत्या की सुपारी दी थी।  इस मामले में 1150 पन्नों की चार्जशीट फाइल की गई है।
You might also like

Comments are closed.