Ahmednagar | शिवराया का अपमान करनेवाले छिंदम ब्रदर्स अब ‘इस’ जुर्म में गिरफ्तार

अहमदनगर (Ahmednagar News) : कुछ साल पहले छत्रपति शिवाजी महाराज (Chhatrapati Shivaji Maharaj) के बारे में अपशब्द का इस्तेमाल करनेवाले (Ahmednagar) पूर्व डिप्टी मेयर श्रीपाद छिंदम (Shripad Chhindam) और उसके भाई श्रीकांत छिंदम (Shrikant Chhindam) को पुलिस ने आज गिरफ्तार (Arrest) कर लिया। उसके खिलाफ दो महीने पहले एक टपरी चालक को जातिवाचक गालीगलौज करने का मामला दर्ज किया गया था। जेसीबी द्वारा टपरी को उखाड़ने और जगह (Ahmednagar) हथियाने का भी आरोप है। जमानत पाने के प्रयास में अपराध करने के बाद से वह फरार था। लेकिन वह सफल नहीं हुआ। आखिरकार उन लोगों को कल रात तोफखाना पुलिस (Police) ने गिरफ्तार कर लिया।

 

इस संबंध में तोफखाना थाने (Tofkhana police station) की इंस्पेक्टर ज्योति गडकरी (Inspector Jyoti Gadkari) ने बताया कि वारदात के बाद से ही पुलिस उसकी तलाश कर रही थी। हालांकि, वो नहीं मिले। हमें सूचना मिली थी कि वह बीती रात शहर आया है, जिसके अनुसार पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया है। दोनों को गिरफ्तार कर लिया गया है और उनके अन्य साथियों की तलाश की जा रही है।

 

इससे पहले श्रीपाद छिंदम शिवराया के बारे में अपशब्द का इस्तेमाल करने को लेकर विवादों में आ गए थे। बाद में उन्हें भाजपा (BJP) ने पार्टी से निष्कासित कर दिया था। इस अपराध के लिए उन्हें गिरफ्तार किया गया था, उनका नगरसेवक पद चला गया था। वह दूसरी बार फिर से चुने गए, उसे भी रद्द कर दिया गया। उसके मूल अपराध पर फैसला अभी बाकी है।

 

जुलाई 2021 में उनके खिलाफ दर्ज किया गया यह दूसरा मामला है। दिल्ली गेट में जूस की दुकान चलाने वाले भागीरथ भानुदास बोडखे (Bhagirath Bhanudas Bodkhe) (52 निवासी नालेगांव) ने असने भाई व 30 से 40 अन्य लोगों के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई है. तदनुसार श्रीपाद शंकर छिंदम, श्रीकांत शंकर छिंदम, महेश सब्बन, राजेंद्र जामदाडे (सभी निवासी तोपखाना) और 30 से 40 अन्य अज्ञात व्यक्तियों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है। 9 जुलाई की दोपहर सभी आरोपी  दिल्ली गेट आए। भगीरथ बोडखे अपने जूस सेंटर में काम कर रहे थे। श्रीकांत और श्रीपद छिंदम सहित भीड़ जेसीबी और क्रेन के साथ आई थी। उन्होंने बोडखे का अपमान किया।

जूस सेंटर के सामान को फेंक दिया। श्रीपाद ने कहा कि यह जमीन हमने खरीद ली है और उसका सामान फेंकना शुरू कर दिया। धमकाया और यहां तक कि नस्लवादी टिप्पणी का भी इस्तेमाल किया। उसने टपरी का सामान फेंक कर गल्ले से 30 हजार रुपये निकाल लिए। शिकायत के मुताबिक आरोपी ने जेसीबी की मदद से बोडखे की टपरी को तोड़ दिया। अब इस मामले में दो छिंदम भाइयों (Chhindam Brothers) को गिरफ्तार किया गया है।

 

 

Jalna | बारिश के कारण फसल बर्बाद, मराठा आरक्षण न होने के कारण नौकरी मिलने में मुश्किल, परेशान युवक ने की आत्महत्या

Javed Akhtar | जावेद अख्तर ने हिंदुओं को बताया सबसे ‘सहिष्णु बहुसंख्यक’, BJP-RSS संबंधित ‘उस’ विवाद पर भी तोड़ी अपनी चुप्पी

You might also like

Comments are closed.