आरोपी की मौत के बाद भीड़ ने किया पुलिस थाने पर हमला; 3 पुलिस घायल

उस्मानाबाद : आरोपी की मृत्यु के बाद गुस्साई भीड़ ने डेडबॉडी रखे गए एम्बुलेंस को खड़ी कर पुलिस थाने पर हमला किया। भीड़ के इस हमलेसे वाशी पुलिस थाने के पुलिस निरीक्षक और दो पुलिस कर्मचारी घयल हो गए। इसके बाद पुलिस ने आंसू गैस छोड़कर भीड़ को भगाया। यह घटना वाशी पुलिस थाने में आधी रात को 12 बजे के आस पास हुई।

भीड़ के हमले में पुलिस निरीक्षक उस्मान शेख, पुलिसकर्मचारी परशुराम पवार व भागवत झोंबडे घायल हो गए। उस्मान शेख गंभीर रूप से घायल हो गए उन्हे इलाज के लिए उस्मानाबाद में भर्ती कराया गया है। पवार व झोंबड का इलाज वाशी ग्रामीण अस्पताल में किया गया।

मिली जानकारी के अनुसार वाशी तालुके के पारा स्थित रमज्या लाला काले को वाशी पुलिस ने एक अपराध में 1 अप्रैल कओ गिरफ्तार किया। कोर्ट ने उसे न्यायलयीन कस्टडी में भेजा था। उसकी तबीयत बिगड़ने के बाद उसे उस्मानाबाद सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया गया था। वहाँ से उसे सोलापुर अस्पताल ले जाया गया। इलाज के दौरान 4 अप्रैल को उसकी मृत्यु हो गई। इसलिए उसके रिश्तेदारों ने गुस्से में आकर हमला किया।

रमज्या काले की डेड बॉडी लेकर सोलापुर से एंबुलेंस रात के 11 बजे के आसपास गांव पहुंची। उसके रिश्तेदारो ने एंबुलेंस सीधा वाशी पुलिस थाने के समने खड़ी कर दी। उसके बाद भीड़ ने थानेको घेर लइया और पत्थरबाजी शुरू कर दी। इसमे पुलिस निरीक्षक उस्मान शेख व दो कर्मचारी घायल हो गए। इसकी जानकारी मिलते ही पुलिस फोर्स मंगाया गया। उसके बाद आंसू गैस छोड़कर भीड़ को भगाया गया। घायल पुलिस को तुरंत इलाज के लिए अस्पताल भेजा गया। पुलिस उपअधीक्षक डॉ. विशाल खांबे वाशी पहुंचे और स्थिति को नियंत्रण में किया।

You might also like

Comments are closed.