50 हजार रुपये रिश्वत लेने के मामले में महिला जज को एसीबी ने किया गिरफ्तार

पुणे : फौजदारी मामले में जज को मैनेज कर केस रद्द करने के लिए एक महिला के माध्यम से 50 हजार रुपये रिश्वत स्वीकार करने के मामले में एंटी करप्शन ब्यूरो ने सीधा महिला जज को गिरफ्तार किया है। जज के गिरफ्तार होने से जिले में खलबली मच गई है।

अर्चना दीपक जतकर (मावल) गिरफ्तार किए गए महिला जज का नाम है। इस मामले में मावल पुलिस थाने में मामला दर्ज किया गया है। इस मामले में इससे पहले निलंबित पुलिस निरीक्षक अनिल उर्फ भानुदास जाधव को गिरफ्तार किया है। वही रिश्वत लेते हुए पहले निजी महिला शुभावरी भालचंद्र गायकवाड को एसीबी ने 50 हजार रुपये रिश्वत लेते हुए गिरफ्तार किया था। इसके बाद इस मामले में जज के भी शामिल होने का खुलासा हुआ। इसके अनुसार आज एसीबी ने जज अर्चना जतकर को गिरफ्तार किया। उन्हे आज कोर्ट में पेश किया गया।

क्या है मामला?

मावल कोर्ट में चल रहे फौजदारी मामले को मैनेज कर रद्द करने के लिए एक निजी महिला के माध्यम से 50 हजार रुपये की रिश्वत ली थी। उसे गिरफ्तार किया गया था। उसके माध्यम से प्रथम दंडाधिकारी महिला जज के शामिल होने की जानकारी सामने आई। इसके बाद पुलिस निरीक्षक जाधव के शामिल होने की जानकारी भी सामने आई।

You might also like

Comments are closed.