सवा लाख रुपये रिश्वत की मांग करने वाले तहसीलदार को ACB ने किया गिरफ्तार

पुश्तैनी जमीन के 7/12 पर से अवैध व्यवहार का रिमार्क हटाने के लिए तहसीलदार ने किसान से सवा लाख रुपए की घूस मांगे जाने का मामला सामने आया है। एंटी करप्शन ब्यूरो ने शिकायत मिलने के बाद तहसीलदार को गिरफ्तार किया। इस संबंध में तहसीलदार के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है।

गंगापुर (औरंगाबाद जिला) के तहसीलदार अविनाश महादेव शिंगटे और राजस्व सहायक अशोक बाबूराव मरकड ने शिकायतकर्ता से 1.25 लाख रुपये की मांग की थी। तहसीलदार शिंगटे ने शिकायतकर्ता की पैतृक भूमि में सातबारा पर अवैध लेनदेन में रिमार्क को कम करने के लिए रिश्वत की मांग की थी।

शिकायतकर्ता ने एंटी करप्शन ब्यूरो के पास रिश्वत की शिकायत दर्ज कराई। शिकायत की जांच के बाद एसीबी ने जाल बिछाया। 1.25 लाख रुपये में से 70,000 रुपये की रिश्वत स्वीकार करते हुए, औरंगाबाद एंटी करप्शन ब्यूरो ने तहसीलदार शिंगटे और राजस्व सहयोगी मरकड को रंगेहाथ पकड़ा। शुक्रवार शाम यह कार्रवाई की गई। पुलिस उप अधीक्षक मारुति पंडित, पुलिस निरीक्षक विकास घनवट की टीम ने यह कार्रवाई की।

You might also like

Comments are closed.