गजानन मारणे के साथ 9 गिरफ्तार… शरद मोहोल पर भी एफआईआर दर्ज

पुणे : मकोका जैसे मामलो में निर्दोष छूटने के बाद कुख्यात अपराधी गजानन मारणे ने तलोजा जेल से रॉयल इंट्री मारते हुए पुणे में प्रवेश किया। कुख्यात अपराधी गजानन मारणे को यह रॉयल एंट्री महंगी पड़ी। पुणे पुलिस ने उन पर मामला दर्ज करते हुए उसको और उसके कार्यकर्ताओ को प्रसाद के रूप में गिरफ्तारी दी है। वही दूसरी ओर खडक सीमा में एंट्री मारने वाले शरद मोहोल के साथ 26 लोगो पर पुलिस ने एफआईआर दर्ज किया है।

मारणे और उसके 9 साथियो को गिरफ्तार किया गया है। इस प्रकरण में कोथरूड पुलिस थाने में मामला दर्ज किया गया है। पुणे के अमोल बधे और पप्पू गवडे हत्या मामले में गजानन मारणे को सोमवार को जेल से रिहा किया गया। यह रिहाई और इसके बाद हुई रॉयल इंट्री उसे महंगी पड़ी। स्वागत में सैकड़ो गाड़िया और समर्थको की भीड़ और महामार्ग पर हुए रोड शो की वजह से पुणे जिले में खलबली उड़ी हुई है। उसके समर्थको ने महाराष्ट्र का किंग, डॉन आया तुम सबका बाप आया इस तरह का स्टेटस लगाया। उसके इस रॉयल इंट्री का वीडियो इतना वायरल हुआ कि पुलिस तक खबर पहुंच गयी। पुलिस ने  इन सभी लोगो पर कोथरूड पुलिस थाने में मामला दर्ज किया। इसमें गजानन मारणे और उसके साथियो का नाम है। इस दौरान मारणे और उसके 9 साथियो को पुलिस ने पकड़ लिया।

गजानन मारणे के काफिले में सैकड़ो गाड़िया और युवा थे। इन युवाओ पर पुलिस ने एफाआईआर दर्ज किया है, लेकिन इस काफिले में शामिल हुए सभी गाड़ियो को ढ़ूंढ़ कर उस पर कारवाई होने वाली है क्या, यह सोचने वाली बात है। ये गाड़िया किसकी है, कोरोना जैसे महामारी के दौरान इतनी बड़ी रैली कैसे हुई… यह बहुत बड़ा सवाल है।

गजा मारणे तलोजा जेल में बंद था। उसकी रिहाई के बाद उसे लेने के लिए जेल के अंदर तक कार पहुच गयी। उसमेन बाऊंसर और उसके समर्थक थे। वही से उसकी रैली शुरू हुई, ऐसे में यह सवाल उठता है कि जल प्रशासन क्या कर रही थी।

गजा मारणे और उसके साथियो पर कोथरूड पुलिस थाने में मामला दर्ज किया गया है। इस प्रकरण में मारणे के साथ कुछ लोगो को गिरफ्तार किया गया है। शहर में इस तरह की घटना को सहन नहीं किया जायेगा। लोग घबराये नहीं, उनकी सुरक्षा के लिए पुलिस कटिबद्ध है। पुणेकरो को सुरक्षित वातावरण मिले, इसके लिए कानून को तोड़ने वालो पर कड़्क कारवाई होगी। – डॉ रविंद्र शिसवे, सह. पुलिस आयुक्त

तलोजा घटना की जांच

तलोजा जेल के गेट से गाड़ी से बाहर आते हुए मारणे का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ। इसमे कई लोग बैठे हुए नज़र आ रहे हैं। गेट के पास बहुत भीड़ थी, इन सबकी जांच जेल के दक्षिण विभाग के विशेष पुलिस महानिरिक्षक ने जांच के आदेश दिये हैं। यह जानकारी जेल के अतिरिक्त पुलिस महासंचालक सुनील रामानंद ने दी।

शरद मोहोल पर एफआईआर दर्ज

खडक पुलिस थाने की सीमा में 26 जनवरी को हुए कार्यक्रम में गैरकानूनी भीड़ करना व अन्य कानून के अनुसार गैंगस्टर शरद मोहोल के साथ 10-12 लोगो पर मामला दर्ज किया गया है।इस कार्यक्रम कआ वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हुआ था। इसके बाद पुणे पुलिस ने कारवाई की।

You might also like

Comments are closed.