7th Pay Commission | केंद्रीय कर्मचारियों की लगी लॉटरी; DA, DR की वजह से बढ़ा HRA

7वां वेतन आयोग (7th Pay Commission)  त्योहार के मौसम के दौरान केंद्रीय कर्मचारियों के लिए अच्छी खबर है। जुलाई में केंद्रीय कर्मचारियों की महंगाई भत्ता (डीए) और डीआर (Dearness Relief) बढ़ा दी गई थी। इसके चलते केंद्रीय कर्मचारियों के वेतन में बढ़ोतरी की गई है। साथ ही अन्य भत्तों में भी वृद्धि (7th Pay Commission)की गई है। इसका सबसे बड़ा फायदा एचआरए में हुआ है। कोरोना महामारी संकट के कारण जनवरी 2020 से जून 2021 तक डीए और डीआर सहित अन्य सभी भत्तों में कोई वृद्धि नहीं की गई। हालांकि अब केंद्र सरकार ने सरकारी कर्मचारियों के लिए खुशखबरी दी है।

केंद्र सरकार ने 1 जुलाई से केंद्रीय कर्मचारियों के महंगाई भत्ते में 28 फीसदी की बढ़ोतरी की है। केंद्रीय मंत्रिमंडल ने 1 जुलाई को केंद्र सरकार के कर्मचारियों और पेंशनभोगियों के लिए महंगाई भत्ते और डीआर में 11 प्रतिशत की बढ़ोतरी के प्रस्ताव को मंजूरी दी थी। इससे 48 लाख से अधिक केंद्र सरकार के कर्मचारियों और 65 लाख पेंशनभोगियों को फायदा हुआ है। डीए की नई दर अब 17 फीसदी से बढ़कर 28 फीसदी हो गई है। डीएस के साथ-साथ केंद्रीय कर्मचारियों के लिए हाउस रेंट अलाउंस (एचआरए) में भी बदलाव किया गया है। सरकार ने एचआरए को बढ़ाकर 27 फीसदी कर दिया है। डीआर और डीएस के साथ एचआरए में वृद्धि की वजह से कर्मचारियों के लिए दिवाली आ गई है। एक तरह से त्योहारी सीजन के दौरान कर्मचारियों के लिए लॉटरी निकल गई है।

एचआर में अलग-अलग कैटेगरी के लिए 1-2 फीसदी की बढ़ोतरी की गई है। वित्त मंत्रालय के आदेश के अनुसार, केंद्रीय कर्मचारियों को अब शहर के आधार पर 27 फीसदी, 18 फीसदी और 9 फीसदी एचआरए मिलेगा। वर्तमान में, तीनों वर्गों के लिए एचआरए 24 प्रतिशत, 16 प्रतिशत और 8 प्रतिशत है। सभी तीन श्रेणियों, 5400, 3600 और 1800 के लिए न्यूनतम एचआरए होगा।

ऐसे होता है एचआरए का कैलकुलेशन –

डीओपीटी की अधिसूचना के अनुसार, सभी केंद्रीय कर्मचारी अब एचआरए का लाभ उठा सकेंगे। जैसे-जैसे महंगाई भत्ता बढ़ता है, वैसे ही एचआरए कैलकुलेट की जाती है। 7वें वेतन मैट्रिक्स के अनुसार, यदि किसी केंद्रीय कर्मचारी का मूल वेतन 56,000 रुपये प्रति माह है, तो उसे 27 प्रतिशत की दर से एचआरए मिलेगा।

उदाहरण के लिए देखें

वर्तमान एचआरए = रु.56000 X 27/100 = रु.15120 प्रति माह

पिछला एचआरए = रु.56000 X 24/100 = रु.13440 प्रति माह

 

Pune | पुणे के जेजुरी में चाचा-भतीजे के गैंग दवारा मुलशी पैटर्न से  कब्जाई 113 एकड़ जमीन मुक्त कराई 

 

You might also like

Comments are closed.