सर्वेक्षण में पायी गई 6010 नई ग़ैरनिवासी मिल्कियतें

5 लाख से ज्यादा संपत्ति कर के बकायेदारों के खिलाफ होगी जब्ती की कार्रवाई

पिंपरी : समाचार ऑनलाइन – संपत्ति कर से मिलने वाली आय बढ़ाने और कर की प्रभावी वसूली के लिहाज से पिंपरी चिंचवड मनपा के कराधान और कर संकलन विभाग ने 18 हजार 600 गैर-निवासी मिल्कियतों का सर्वेक्षण किया है। उनमें, 6010 नई मिल्कियतें पायी गई। इनमें नई 4750 और अतिरिक्त निर्माणकार्य की गई 900 एवं इस्तेमाल में बदलाव की गई 360 मिल्कियतें शामिल हैं। कराधान विभाग ने चेतावनी दी है कि 5 लाख से अधिक संपत्ति कर बकाया रहे मिल्कियत धारकों की संपत्ति पर जब्ती की कार्रवाई की जाएगी।
मनपा के कराधान विभाग के माध्यम से 11 नवंबर से शहर की गैर-आवासीय मिल्कियतों का सर्वेक्षण शुरू किया गया है। यह सर्वेक्षण 7 दिसंबर तक चलाया जाएगा। सर्वे के लिए आनेवाले कर्मचारियों को अपनी मिल्कियत की जानकारी देकर सहयोग देने की अपील की गई है। इसके अलावा सर्वे का विरोध या सर्वेक्षण के कामकाज में बाधा डालनेवालों के खिलाफ कड़ी कानूनी कार्रवाई की जाएगी। कराधान विभाग की सहायक आयुक्त स्मिता झगड़े ने एक विज्ञप्ति के जरिए इसकी चेतावनी दी है।
जिन नागरिकों ने अभी तक अपनी नई मिल्कियत या अतिरिक्त निर्माण या इस्तेमाल में बदलाव को लेकर मनपा के कराधान विभाग को सुचित नहीं किया है, वे इस सर्वेक्षण के तहत आनेवाले कर्मचारियों या कराधान विभाग के संभागीय कार्यालयों में लिखित रूप से आवेदन कर सूचित करें। साथ ही, यदि नागरिक अपने आसपास किसी भी नई, अतिरिक्त निर्माण या अपरिवर्तित मिल्कियत को देखते हैं, तो उन्हें व्हाट्सएप 9890350662 पर आय पते के साथ फोटो अपलोड करने की अपील भी सहायक आयुक्त झगड़े ने की है। 5 लाख से ज्यादा संपत्ति कर बकाया रहे बकायेदारों से भी अपील की गई है कि जब्ती की कार्रवाई से बचने के लिए समय पर कर भुगतान करें।

Comments are closed.