हिंदी फिल्म निर्माता पराग सिंघवी के साथ 58 करोड़ की धोखाधड़ी, पुणे के सचिन जोशी के खिलाफ FIR दर्ज, ‘प्लेबॉय’ की रॉयल्टी नहीं देने का आरोप

पुणे : ऑनलाइन टीम – पुणे में प्लेबॉय यूनिट की दो फ्रेंचाइजी देने के बाद, इसकी रॉयल्टी का भुगतान नहीं किया गया था और इस प्रकार, एक प्रसिद्ध हिंदी फिल्म निर्माता के साथ 58 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी की गयी हैं। यह पूरी घटना सामने आने के बाद शहर में और फिल्म उद्योग में हलचल मची हुई है। यह घटना 2016 और जनवरी 2021 की बतायी जा रही हैं।

इस मामले में फिल्म निर्माते पराग मधू संघवी (48, नि. अंधेरी पश्चिम) ने चतुःश्रुगी पुलिस थाने में शिकायत दर्ज़ कराई है। जिसके बाद अब सचिन जगदीशप्रसाद जोशी (नि. पवई, मुंबई) और अन्य के खिलाफ मामला दर्ज़ किया गया है।

पुलिस के मुताबिक, शिकायतकर्ता एक हिंदी फिल्म निर्माता है। प्लेबॉय एक अमेरिका की कंपनी है। उनकी फ्रैंचाइज़ी संघवी ने बाणेर और कोरेगाँव पार्क में सचिन जोशी को दी थी। सांघवी ने जोशी और वाइकिंग मीडिया एंड एंटरटेनमेंट प्रा. लिमिटेड के निदेशक द्वारा समझौते पर हस्ताक्षर किए गए। लेकिन, आरोपियों ने 2016 से नियमानुसार रॉयल्टी का भुगतान नहीं किया। जिसके बाद सांघवी ने पुणे पुलिस में 58 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी का मामला दर्ज कराया है। यह शिकायत वित्तीय अपराध शाखा में की गयी है।

पुलिस ने जोशी के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है। आर्थिक अपराध शाखा के सहायक निरीक्षक एच.एम. ननावरे आगे की जांच कर रहे हैं। शिकायत दर्ज की जानकारी सहायक आयुक्त डॉ. शिवाजी पवार ने दी।

You might also like

Comments are closed.