वर्धा जिले में 36 घंटे का कर्फ्यू, कोरोना ने किया घर में रहने को मजबूर

मुंबई : पुणे सामाचर ऑनलाइन – महाराष्ट्र के वर्धा जिले में शनिवार रात 8 बजे से सोमवार सुबह 8 बजे तक कर्फ्यू का ऐलान कर दिया गया है। यह कदम किसी मारपीट अथवा लड़ाई-झगड़े का कारण नहीं, कोरोना के चलते लगाया गया है। वर्धा जिला कलेक्टर प्रेरणा एच देशभर ने बताया कि कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों को देखते हुए स्कूल और कॉलेजों को अगली सूचना तक बंद रखने के आदेश भी जारी कर दिए गए हैं। आदेश के अनुसार, सिर्फ मेडिकल स्टोर्स और अत्यावश्यक सेवाओं से जुड़े लोगों को कर्फ्यू में आने-जाने की अनुमति होगी। इसके अलावा सभी कुछ बंद रहेगा। इस बार सरकार ने पेट्रोल पंप को भी बंद रखने का आदेश दिया है।

गौरतलब है कि कोरोना ने सप्ताह भर के अंदर जोरदार पलटवार किया है। विदर्भ के आधे जिले करीब-करीब चपेट में हैं। अमरावती में वीकेंड पर लॉकडाउन और यवतमाल में नाइट कर्फ्यू की घोषणा की गई है। मुंबई में BMC ने नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ वायरोलॉजी (NIV) के पास 90 ऐसे लोगों के सेंपल भेजे हैं, जिनमें कोरोना वायरस के नए स्ट्रेन होने की संभावना देखी गई है। इसकी रिपोर्ट 7-10 दिनों के अंदर आएगी। तब तक बीएमसी कमिश्नर इकबाल सिंह चहल ने कोरोना गाइडलाइन का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई के आदेश दिए हैं।

You might also like

Comments are closed.