उप्र में 1 बजे तक 34.92 प्रतिशत मतदान (लीड-3)

लखनऊ (आईएएनएस) : समाचार ऑनलाईन – लोकसभा चुनाव के छठे चरण के तहत उत्तर प्रदेश में 14 लोकसभा सीटों पर दोपहर एक बजे तक 34.92 प्रतिशत मतदान हो चुका है। गरमी से बचने के कारण लोग सुबह से ही लंबी लाइनों में लगे थे। धूप ज्यादा होने के बावजूद भी मतदान केंद्रों में लोगों की लम्बी कतारें देखी गईं।

स्ांयुक्त मुख्य निर्वाचन अधिकारी रमेश चन्द्र के मुताबिक राज्य में छठे चरण के तहत दोपहर एक बजे तक सुलतानपुर में 38.87, प्रतापगढ़ में 34.39, फूलपुर में 29.20, इलाहाबाद में 32.38, अंबेडकरनगर में 38.20, श्रावस्ती में 32.64, डुमरियागंज में 34.40, बस्ती में 38.68, संत कबीर नगर में 37, लालगंज में 32.79, आजमगढ़ में 34.80, जौनपुर में 34.53, मछलीशहर में 35.80 और भदोही 35.26 प्रतिशत मतदान हुआ। इस दौरान समाजवादी पार्टी (सपा) के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने आजमगढ़ में ईवीएम खराब होने की शिकायत की है।

चुनाव आयोग को लिखे पत्र में कहा गया है, “आजमगढ़ लोकसभा क्षेत्र में हो रहे मतदान में बड़ी संख्या में ईवीएम गड़बड़ी सामने आ रही है। पीठासीन अधिकारियों की मनमानी और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) नेताओं की दबंगई पर तत्काल कार्रवाई कर निष्पक्ष चुनाव प्रक्रिया सुनिश्चित करें।” वहीं, जौनपुर में भाजपा कार्यकर्ताओं और पुलिस कर्मियों के बीच मारपीट का मामला सामने आया है।

जौनपुर के खुटहन थाना क्षेत्र के अकबरपुर बूथ के पास एक मकान पर भाजपा का झंडा लगा हुआ था। एक पुलिसकर्मी उस झंडे को उतारने के लिए छत पर चढ़ा। इस दौरान भाजपा कार्यकर्ताओं की पुलिसकर्मी से नोक-झोंक हो गई और उनके बीच मार-पीट होने लगी। सूचना मिलने पर पुलिस बल ने भारी संख्या में पहुंचकर मामले को शांत कराया।

भाजपा कार्यकर्ताओं का आरोप है कि पार्टी का झंडा उतारने के बाद पुलिसकर्मी ने झंडे से अपने जूते को साफ किया। जिस पुलिस कर्मी ने झंडा उतारा था उसे वहां से हटा दिया गया। वहीं, सूचना पर जिलाधिकारी और पुलिस अधीक्षक ने मौके पर पहुंचकर मामले की जानकारी ली।

उधर, प्रयागराज में एक मतदाता ने पहले मतदान किया और फिर पिण्डदान किया। मतदाता की मां की कल मृत्यु हुई थी। प्रतापगढ़ के सांडवा चंडिका विकासखंड के खजूरी गांव में ग्रामीणों ने चुनाव का बहिष्कार कर दिया। उनका आरोप है कि सई नदी पर शासन द्वारा पुल स्वीकृत किया गया था, जो लठवत घाट पर ना बन के खजूरी घाट पर बन रहा है। ग्रामीणों ने इसका विरोध करते हुए मतदान का बहिष्कार कर दिया।

अवध और पूवार्ंचल क्षेत्रों के इस चुनावी रण में राजनीति के जो धुरंधर और चर्चित चेहरे मैदान में हैं, उनमें आजमगढ़ से सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव और भाजपा उम्मीदवार भोजपुरी फिल्मों के अभिनेता दिनेश लाल यादव ‘निरहुआ’, सुलतानपुर से केंद्रीय मंत्री मेनका गांधी, इलाहाबाद से प्रदेश की महिला कल्याण मंत्री डॉ़ रीता बहुगुणा जोशी व अंबेडकरनगर से सहकारिता मंत्री मुकुट बिहारी वर्मा शामिल हैं।

You might also like

Comments are closed.