एक ही रात में 19 झटके…सोमनाथ की धरती हिलती रही सुबह तक

सोमनाथ. ऑनलाइन टीम : गुजरात के गिर सोमनाथ जिले में रविवार देर रात हिली धरती भूगर्भ शास्त्रियों के लिए नई चुनौती है। देर रात से लेकर सुबह तक वहां की धरती को कुल 19 झटके लगे। इनकी तीव्रता 1.7 से 3.3 तक आंकी गई। देर रात एक बजकर 42 मिनट से भूकंप का सिलसिला शुरू हुआ। इनमें से सोमवार सुबह तीन बजकर 46 मिनट पर आए भूकंप की तीव्रता 3.3 मापी गई, जिसका केंद्र जिले में तालाला से 12 किलोमीटर ईएनई में था।

आखिरी भूकंप का झटका सोमवार सुबह नौ बजकर 26 मिनट पर महसूस किया गया, जिसकी तीव्रता 3.2 मापी गई। इसका केंद्र तालाला से 11 किलोमीटर पूर्व-उत्तर-पूर्व में था। उन्होंने बताया कि 19 में से तीन भूकंपों की तीव्रता 3.1 मापी गई। इस दौरान इस दौरान किसी के हताहत होने की कोई जानकारी नहीं है।

गांधीनगर स्थित भूकंप अनुसंधान संस्थान (आईएसआर) के निदेशक सुमेर चोपड़ा ने कहा,‘यह मॉनसून के कारण होने वाली भूकंपीय गतिविधि है। जब मॉनसून में सामान्य से अधिक बारिश होती है, तो बारिश के दो-तीन महीने बाद इस प्रकार के भूकंप के झटके आते हैं। तीव्रता अलग-अलग होती है। दरअसल, चट्टानों में पहले ही काफी दबाव होता है। पानी के कारण दबाव और बढ़ जाता है, जिसके कारण भूकंप आते हैं। गिर सोमनाथ जिले में तालाला के अलावा पोरबंदर एवं जामनगर में भी इस अवधि में आम तौर पर भूकंप आते हैं। जामनगर में पहले इस प्रकार की गतिविधियां देखी गई हैं, लेकिन अब ये कम हो गई हैं।’

You might also like

Comments are closed.