नए सर्वेक्षण में मिली 15 हजार नई संपत्तियां

पिंपरी। अतिरिक्त, नई और इस्तेमाल में बदलाव लायी गयी संपत्तियों को ढूंढ निकालने के लिहाज से पिंपरी चिंचवड़ मनपा की ओर से सर्वेक्षण शुरू किया गया है। इसके शुरू होने के 15 दिन के भीतर नई 15 हजार संपत्तियां मिली है। यह सर्वे निजी संस्था के जरिये कराया जा रहा है। इस सर्वेक्षण के तहत जनवरी 2021 तक 50 हजार संपत्तियों को खोज निकालने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। नई संपत्तियों से प्रॉपर्टी टैक्स से मिलनेवाली आमदनी में 100 करोड़ रुपए की बढ़ोतरी की उम्मीद जताई जा रही है।
कर निर्धारण हेतु पात्र सभी संपत्तियों का कर निर्धारण करने के लिए शहर में 30 नवंबर से नई, अतिरिक्त और इस्तेमाल में बदलाव लायी गयी संपत्तियों को ढूंढ निकालने के लिए सर्वेक्षण किया जा रहा है। इसके लिए ऑरिअनप्रो सोल्युशन्स प्रा. लि. कंपनी की नियुक्ति की गई है। सर्वेक्षण के कामकाज की समीक्षा करने और सर्वे में आनेवाली दिक्कतों का हल निकालने के लिए एक बैठक हुई। इसमें प्रभारी अतिरिक्त आयुक्त अजित पवार ने सर्वे के कामकाज की समीक्षा की। क्षेत्रीय अधिकारी मनोज लोणकर, अण्णा बोदडे समेत जोनल अधिकारी, मंडल अधिकारी बैठक में उपस्थित थे।
मनपा के 16 करसंकलन विभागीय कार्यालयों के माध्यम से शहर की इमारतों व जमिनों का कर निर्धारण कर कर वसूल किया जाता है। अब नई इमारत, अतिरिक्त निर्माण और इस्तेमाल में बदलाव की गई इमारतों का सर्वेक्षण किया जा रहा है। गत 15 दिनों में 15 हजार नई संपत्तियां खोजी गई हैं। जनवरी तक 50 हजार नई संपत्तियां खोजने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। इन संपत्तियों से संपत्ति कर से मिलनेवाली आय में 100 करोड़ रुपये की वृद्धि अपेक्षित है। गत वित्त वर्ष में दिसंबर तक जितनी कर वसूली की गई थी उतनी ही कर वसूली इस वर्ष भी करने के निर्देश अतिरिक्त आयुक्त पवार ने दिए है।
You might also like

Comments are closed.