Loading...

वुहान में सभी भारतीय छात्र सुरक्षित

Loading...

नई दिल्ली/बीजिंग, 24 जनवरी (आईएएनएस)। वुहान में फंसे सभी भारतीय छात्र सुरक्षित व स्वस्थ्य हैं। मध्य चीन के वुहान शहर में नोवेल कोरोनावायरस (2019-एनसीओवी) का प्रकोप फैला हुआ है।

आधिकारिक सूत्रों ने आईएएनएस से कहा कि वुहान शहर के मेडिकल कॉलेजों और विश्वविद्यालयों में पढ़ने वाले 500 से अधिक भारतीय छात्र चीनी नववर्ष की छुट्टियों की वजह से ज्यादातर घर के लिए रवाना हो गए हैं।

बीजिंग में भारतीय दूतावास इस समय लगातार वुहान में 40 से अधिक छात्रों की स्वास्थ्य स्थिति पर नजर रखे हुए हैं। बीते हफ्ते चीन में एक भारतीय शिक्षक के वायरस से संक्रमित होने के मामले के बाद भारत ने वुहान की यात्रा को लेकर एक एडवाइजरी जारी की है।

आधिकारिक रिकॉर्ड के अनुसार, 2019-एनसीओवी के कारण हुई 18 मौतों के बाद फैली घबराहट से चीन के वुहान शहर के हवाईअड्डे, रेलवे स्टेशनों, कम दूरी की नौकाओं व लंबी दूरी के कोच को बंद कर दिया है। वुहान की आबादी करीब 1.1 करोड़ है। मरने वालों की संख्या अब बढ़कर 25 हो गई है।

चीन के स्वास्थ्य अधिकारियों ने शुक्रवार को कहा कि 29 प्रांतीय स्तर के क्षेत्रों में 2019-एनसीओवी के कारण होने वाले न्यूमोनिया के 830 मामलों की पुष्टि की गई है और 20 प्रांतीय स्तर क्षेत्रों में 1,072 संदिग्ध मामलों की सूचना है।

स्थानीय मीडिया की रिपोर्ट के मुताबिक, चीन के वित्त मंत्रालय ने महामारी को नियंत्रित करने के लिए 14.5 करोड़ डॉलर की राशि का आवंटन किया है।

 

Loading...

Comments are closed.