विशेषज्ञ पैनल ने स्पुतनिक को मंजूरी दी, देश को मिलेगा तीसरा टीका

नई दिल्ली, 12 अप्रैल (आईएएनएस)। एक सरकारी विशेषज्ञ पैनल ने भारत में रूसी निर्मित कोविड टीका, स्पुतनिक-वी के आपातकालीन उपयोग प्राधिकरण को मंजूरी दे दी है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के सूत्रों ने यह जानकारी दी।

ड्रग कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया ने सब्जेक्ट एक्सपर्ट कमेटी की मंजूरी देने के बाद, आईएएनएस को बताया, एस्ट्राजेनेका-ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी द्वारा विकसित कोविशील्ड और भारत बायोटेक द्वारा विकसित कोवैक्सीन के बाद यह तीसरी वैक्सीन होगी।

भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद (आईसीएमआर) के डॉ. एन.के. अरोड़ा ने आईएएनएस से बात करते हुए कहा, हालांकि, मुझे अभी इसकी मंजूरी के बारे में कोई आधिकारिक जानकारी नहीं मिली है, लेकिन अगर इसे मंजूरी मिल जाती है तो यह भारत के लिए अच्छी खबर होगी।

इस वैक्सीन की विशेषताओं के बारे में बताते हुए, अरोड़ा ने कहा, स्पुतनिक दो डोज का टीका है। पहली खुराक की संरचना दूसरी खुराक से अलग होगी और पहली खुराक और दूसरी के बीच कम से कम तीन से चार सप्ताह का अंतर होना चाहिए। प्रकाशित आंकड़ों से पता चलता है कि इसमें 91 प्रतिशत प्रभावकारिता है। इस पर कुछ और स्पष्टता भी जल्द आएगी।

–आईएएनएस

आरएचए/एएनएम

You might also like

Comments are closed.