रोड सेफ्टी वर्ल्ड सीरीज : आज दूसरे सेमीफाइनल में द. अफ्रीका से भिड़ेगा श्रीलंका

रायपुर, 19 मार्च (आईएएनएस)। रोड सेफ्टी वर्ल्ड सीरीज टी20 टूर्नामेंट का दूसरा सेमीफाइनल आज यहां शहीद वीर नारायण सिंह इंटरनेशनल स्टेडियम में होगा। यह मुकाबला श्रीलंका लेजेंड्स और दक्षिण अफ्रीका लेजेंड्स के बीच खेला जाएगा। श्रीलंका लेजेंड्स ने अब तक इस टूर्नामेंट में चमकदार खेल दिखाया है। दूसरी ओर, दक्षिण अफ्रीकी टीम बांग्लादेश के खिलाफ शानदार जीत के बाद फार्म में लौट चुकी है।

इस मैच के विजेता का सामना रविवार को होने वाले फाइनल मुकाबले में सचिन तेंदुलकर की कप्तानी वाली इंडिया लेजेंड्स से होगा, जिसने बुधवार को पहले सेमीफाइनल में वेस्टइंडीज लेजेंड्स को रोमांचक मुकाबले में 12 रनों से हराया था।

श्रीलंका की टीम की बात करें तो भारत के खिलाफ मिली हार के अलावा उसने बाकी सभी टीमों के खिलाफ शानदार प्रदर्शन करते हुए जीत हासिल की है। भारत के खिलाफ मैच को छोड़ दिया जाए तो इस टीम ने चार मैचों में जीत हासिल की है।

तिलकरत्ने दिलशान की कप्तानी में खेल रही यह टीम कागज पर द. अफ्रीका से काफी मजबूत है। खुद कप्तान दिलशान ने आगे बढ़कर टीम का नेतृत्व किया है। वह बल्ले और गेंद के साथ शानदार फॉर्म में हैं।

दिलशान टूर्नामेंट में सबसे अधिक 232 रन बनाए हैं। इसमें दो अर्धशतक शामिल हैं। उनका सर्वोच्च व्यक्तिगत योग नाबाद 61 रन रहा है। उनके बाद वीरेंद्र सहवाग (204), सचिन तेंदुलकर (203) का स्थान है। बल्ले से ही नहीं, दिलशान ने गेंद से भी चमक बिखेरते हुए अब तक कुल 12 विकेट हासिल किए हैं।

सिर्फ दिलशान नहीं बल्कि उपुर थरंगा ने भी अपने बल्ले की चमक दिखाई है। थरंगा के नाम 99 रनों का स्कोर है, जो टूर्नामेंट का अब तक का सर्वोच्च व्यक्तिगत योग है।

नुवान कुलासेकरा, धम्मिका प्रसाद, ऑलराउंडर फरवेज महरूफ और अनुभवी स्पिनर रंगना हेराथ के रहते दिलशान की टीम का आक्रमण काफी मजबूत नजर आता है।

दूसरी ओर, दक्षिण अफ्रीका उतनी खतरनाक नहीं है लेकिन बांग्लादेश के खिलाफ उसने जिस तरह का खेल दिखाया है, उसे देखते हुए श्रीलंका किसी भी हाल में उसे हल्के में नहीं लेना चाहेगा।

दक्षिण अफ्रीका के ओपन एंड्रयु पुटिक (नाबाद 82) और मोर्ने वान विक (नाबाद 69) ने 8 गेंद शेष रहते बिना कोई विकेट गंवाए 161 रनों के लक्ष्य को पार किया था। पुटिक के अलावा, जिन्होंने चार मैचों में 182 रन बनाए हैं, कोई और दक्षिण अफ्रीकी बल्लेबाज चमकदार खेल नहीं दिखा सका है।

उसके पास हालांकि अल्वारो पीटरसन, जांदेर दे ब्रुएन और कप्तान जोंटी रोड्स के रूप में कई अनुभवी बल्लेबाज हैं।

गेंदबाजी में भी उसके सभी खिलाड़ी अपनी क्षमता के साथ न्याय नहीं कर सके हैं। थांडी साबालाला (4 मैच, 5 विकेट) सबसे सफल गेंदबाज हैं। इसके अलावा मखाया एंटिनी, मोंडे जोंडेंकी, पीटरसन, तथा गार्नेट क्रूगर उसकी आक्रमण पंक्ति में शामिल हैं।

रोड्स की टीम को अगर फाइनल में इंडिया लेजेंड्स से भिड़ना है तो उसे अपना श्रेष्ठ प्रदर्शन करना होगा।

टीमें (सम्भावित) :

श्रीलंका लेजेंड्स : तिलकरत्ने दिलशान (कप्तान), चमारा सिल्वा, दुलंजना विजिनसिंघे, मलिंदा वारनपुरा, सनत जयसूर्या, उपुल थरंगा, अजंता मेंडिस, धम्मिका प्रसाद, नुवान कुलासेकरा, रंगना हेराथ, थिलन तुषारा, चिन्तका जयसिंघे, फरवेज महरूफ, रसेल अर्नाल्ड और चमरा कापूगेदारा।

दक्षिण अफ्रीका लेजेंड्स : जोंटी रोड्स (कप्तान), अल्वीरो पीटरसन, लॉयड नॉरिस जोन्स, लूट्स बोसमैन, गार्नेट क्रुगर, मखाया एंटिनी, मोंडे जोंडेकी, नैंटी हेवर्ड, रोजर टेलीमाकस, थांडी साबालाला, जस्टिन केंप, जेंडर डी ब्रुइन, एंड्रयू पुटीक, मोर्ने वान विक।

–आईएएनएस

जेएनएस/एएसएन

You might also like

Comments are closed.