राहुल ने बहबल कलां गोलीबारी के दोषियों के खिलाफ कड़े कदम की चेतावनी दी

 फरीदकोट/लुधियाना, 15 मई (आईएएनएस)| बेअदबी मामले में शिरोमणी अकाली दल (शिअद)-भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) गठबंधन पर हमला करते हुए कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने बुधवार को बरगाड़ी और पवित्र गुरुग्रंथ की बेअदबी के दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की चेतावनी दी।

 क्षेत्र में अपने पुराने दौरे को याद करते हुए राहुल ने कहा कि जिन्होंने धार्मिक ग्रंथ का अपमान किया है, वे दया के पात्र नहीं हैं। उन्होंने बेअदबी की घटनाओं और 2015 बहबल कलां व कोटकापुरा गोलीबारी की घटनाओं का जिक्र किया।

15 अक्टूबर 2015 को बहबल कलां गांव में पुलिस ने गुरु ग्रंथ साहिब की बेअदबी के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे सैकड़ों लोगों पर गोली चलाई थी, जिसमें दो लोग मारे गए थे और कई अन्य घायल हो गए थे। ये लोग कुछ दिन पहले फरीदकोट के बरगाड़ी गांव में हुए पवित्र ग्रंथ की बेअदबी के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे थे।

फरीदकोट से कांग्रेस उम्मीदवार मोहम्मद सादिक और लुधियाना से पार्टी उम्मीदवार रणवीत सिंह बिट्ट के पक्ष में रैलियों को संबोधित करते हुए राहुल ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर पंजाब और पूरे देश का अपमान करने का आरोप लगाया। राहुल के साथ प्रदेश के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह भी मौजूद थे।

मोदी ने कहा था कि बीते 70 वर्षो में कोई विकास नहीं हुआ है और उनके सत्ता में आने तक देश सो रहा था, इसपर उन्होंने कहा, “आप तब कहां थे जब पंजाब के किसान हरित क्रांति कर रहे थे।”

उन्होंने कहा, “ये भारत के लोग हैं जो अपने खून-पसीने से देश चला रहे हैं। कांग्रेस देश के विकास के लिए धर्म, जाति, समुदाय से ऊपर उठकर सबके साथ आगे बढ़ने पर विश्वास करती है।”

उन्होंने रोजगार सृजन और किसानों के कल्याण को कांग्रेस की प्रमुख प्राथमिकताओं में से एक बताया।

लुधियाना में उन्होंने कहा कि ‘भारत मेड इन लुधियाना’ के बिना चीन को चुनौती नहीं दे सकता, जिसे ‘मेक इन इंडिया’ का अभिन्न अंग बनाया जाना चाहिए।

उन्होंने इसके साथ ही कहा कि बिना छोटे और मध्यम उद्योग को पुनर्जीवित किए रोजगार सृजन सफल नहीं हो सकता।

You might also like

Comments are closed.