रमजान से पहले इमामों की बैठक, बढ़ते कोरोना मामलों से चिंतित

नई दिल्ली, 12 अप्रैल (आईएएनएस)। देश भर में लगातार कोरोना के मामले बढ़ते जा रहे हैं, ऐसे में कुछ दिनों में रमजान का महीना भी शुरू हो जाएगा हालांकि इसको लेकर तमाम इमाम बैठकें कर रहे हैं और इस बात की अपील कर रहे हैं कि सरकार द्वारा जारी की गई गाइडलाइंस को फॉलो किया जाए।

नई दिल्ली के इमाम हाउस में मुख्य इमाम डॉक्टर उमेर अहमद इलियासी की अध्यक्षता में दिल्ली के इमामों की एक बैठक हुई, इस बैठक में कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप को मद्देनजर रखते हुए हालात को कैसे बेहतर बनाया जाए और सोशल डिस्टेंसिंग के साथ मास्क लगाने पर जोर दिया गया।

वहीं रमजान के महीने में जरूरत पड़ने पर घरों से ही नमाज पढ़ी जाए इस पर भी विस्तृत चर्चा की गई। साथ ही जुमे की नमाज के वक्त तमाम इमाम अपनी मस्जिदों से इस पैगाम को आम लोगों तक पहुंचाए और सरकार के द्वारा दी गई गाइडलाइंस को भी लोगों तक पहुंचा कर अमल करवाने कि बात कही गई।

दरअसल, देश की राजधानी दिल्ली में कोरोना के मामलों ने अब तक के सभी रिकॉर्ड तोड़ दिए हैं। दिल्ली में शनिवार को एक दिन में सबसे ज्यादा 10,774 नए केस सामने आए हैं। वहीं 48 कोरोना पेशंट्स की मौत हुई है।

ऑल इंडिया इमाम ऑर्गेनाइजेशन के चेयरमैन मौलाना उमैर इल्यासी ने आईएएनएस को बताया, इमामों के साथ हुई बैठक में हमने कहा है कि सरकार की गाइडलाइंस को सख्ती के साथ पालन करें और करवाएं। वहीं मंगलवार को रमजान का चांद दिखने की सम्भावना है, जिसके बाद अगले ही दिन पहले रमजान के रोजा रखा जाएगा।

इस बात का जरूर ध्यान रखें कि कोरोना बहुत तेजी से फैल रहा है, कोशिश करें कि घरों में ही नमाज पढ़ें, रोजा घर पर ही खोलें और अपनी जिम्मेदारियों को निभाएं।

भारत में पिछले 24 घंटे में कोरोना के 1,68,912 नए मामले आने के बाद कुल पॉजिटिव मामलों की संख्या 1,35,27,717 हुई। 904 नई मौतों के बाद कुल मौतों की संख्या 1,70,179 हो गई है। देश में सक्रिय मामलों की कुल संख्या 12,01,009 है और डिस्चार्ज हुए मामलों की कुल संख्या 1,21,56,529 है।

— आईएएनएस

एमएसके/एएसएन

You might also like

Comments are closed.