यूपी में कोरोना का कहर चरम पर, 27357 नए संक्रमित मिले

कानपुर, 17 अप्रैल (आईएएनएस)। उत्तर प्रदेश पर कोरोना का कहर लगातार बढ़ता जा रहा है। शनिवार को 27357 नए संक्रमित पाए गए हैं। हालांकि, 120 लोगों की मौत हुई है। वहीं, लखनऊ में 5913 नए संक्रमित मिले हैं। हालांकि, प्रदेश में कोरोना के कारण हालात लगातार भयावह बने हुए हैं, जिसे देखते हुए प्रदेश में शनिवार रात आठ बजे से सोमवार सुबह सात बजे तक 35 घंटे का कर्फ्यू लगाया गया है।

अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद ने बताया कि बीते चौबीस घंटे में 215790 मरीजों के नमूनों की जांच की गई। अब तक कुल 38029865 लोगों की जांच की जा चुकी है। अब एक्टिव केस कुल 170059 हैं। इनमें 86959 मरीज होम आइसोलेशन में हैं, जबकि 7831 को एक दिन में अस्पताल से छुट्टी मिल गई है। इसी तरह टीकाकरण भी तेजी से चल रहा है। अब तक 8997344 लोगों को वैक्सीन की पहली डोज दी गई। पहली डोज लेने वालों में से 1564777 लोगों को दूसरी डोज दी चुकी है। कुल 10562121 लोगों को टीका लगाया जा चुका है।

स्वास्थ्य विभाग से मिली जानकारी के अनुसार, लखनऊ 5913, प्रयागराज 1977, कानपुर नगर 1826, वाराणसी 1664, मेरठ 748,गोरखपुर 723,झांसी- 703, मुरादाबाद 663, बरेली 577,बलिया 508 केस मिले हैं।

उत्तर प्रदेश ने कोरोना महामारी के बीते एक वर्ष में खुद को काफी संभाला, लेकिन इस बार हालात बेकाबू होते नजर आ रहे हैं। सरकार ने नाइट कर्फ्यू और साप्ताहिक बंदी जैसे कदम उठाए हैं। मास्क पर जुर्माने की सख्ती बढ़ा दी है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ लगातार हालात की समीक्षा कर रहे हैं। इसके बावजूद न तो संक्रमण की रफ्तार नियंत्रण में आ रही है में कमीं हो रही है। बीते चैबीस घंटे में प्रदेशभर में 27357 नए कोरोना पॉजिटिव रोगी मिले।

इसके साथ ही एक्टिव केस की संख्या 170059 पर पहुंच गई। अधिक संक्रमण और मौत के मामले में राजधानी लखनऊ सबसे आगे है। यहां सर्वाधिक 5913 मरीज पाए गए। यहां हुई 36 मौतों के साथ प्रदेश में चैबीस घंटे में कुल मौत का आंकड़ा 120 पहुंच गया।

लखनऊ में अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी ने अस्पतालों का निरीक्षण किया है। उन्होंने इंटीग्रल, एरा व टीएस मिश्रा मेडिकल कॉलेज का निरीक्षण किया। उनके साथ प्रमुख सचिव चिकित्सा शिक्षा व लखनऊ के पुलिस कमिश्नर भी थे। उन्होंने टीम के साथ मेडिकल कॉलेजों की निरीक्षण कर व्यवस्था देखी।

–आईएएनएस

विकेटी/एसजीके

You might also like

Comments are closed.