मिस्र : आतंकी आरोपों में 9 लोगों को उम्रकैद

काहिरा, 8 अप्रैल (आईएएनएस)। मिस्र की एक शीर्ष अदालत ने साल 2015 में सोहाग प्रांत में आतंकवाद से संबंधित आरोपों के मद्देनजर 9 लोगों को उम्र कैद की सजा सुनाई है, जबकि 41 लोगों को बरी कर दिया है।

सिन्हुआ समाचार एजेंसी की रिपोर्ट के मुताबिक, बुधवार को यहां की सर्वोच्च अदालत ने एक को 15 साल जेल की सजा, तीन को 10 साल जेल की सजा और चार अन्य लोगों को पांच साल कैद की सजा सुनाई है।

मिस्र में उम्रकैद की सजा 25 साल की होती है।

साल 2015 में हुई इस घटना में मूल रूप से 190 अभियुक्त शामिल थे। इनमें से 66 लोगों को हिरासत में लिया गया था, वहीं बाकी लापता हैं।

जिन्हें गिरफ्तार किया गया था, वे सोहाग के एक गुफे में अपने पास हथियार वगैरह लेकर छुपे हुए थे।

इन पर आतंकवादी गतिविधियों को अंजाम देने के बारे में योजना बनाने और पुलिस अधिकारियों के साथ-साथ आर्थिक व सार्वजनिक संस्थानों को निशाना बनाने के आरोपों का सामना करना पड़ा था।

इन पर शासन व्यवस्था का उल्लंघन करने का भी आरोप लगा।

–आईएएनएस

एएसएन/आरजेएस

You might also like

Comments are closed.