ममता ने मोदी से की मुलाकात, वैक्सीन और दवाओं की मांग की

नई दिल्ली, 27 जुलाई (आईएएनएस)। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने मंगलवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात की। विधानसभा चुनावों में शानदार जीत के बाद तीसरी बार पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री बनने के बाद प्रधानमंत्री और बनर्जी के बीच राष्ट्रीय राजधानी में यह पहली आधिकारिक बैठक है। प्रधानमंत्री आवास पर हुई यह बैठक करीब 45 मिनट तक चली।

पता चला है कि बैठक के दौरान बनर्जी ने राज्य में कोविड की स्थिति पर चर्चा की और राज्य के लिए और अधिक टीकों (वैक्सीन) और दवाओं की मांग की।

प्रधानमंत्री से मुलाकात के बाद बनर्जी ने कहा, यह एक शिष्टाचार मुलाकात थी। मैंने प्रधानमंत्री को पश्चिम बंगाल में और अधिक टीकों और दवाओं की जरूरत के बारे में बताया। मैंने राज्य का नाम बदलने के लंबित मुद्दे को भी उठाया, जिस पर प्रधानमंत्री ने कहा कि वह देखेंगे।

जुलाई, 2018 में, पश्चिम बंगाल विधानसभा ने राज्य का नाम बदलकर बांग्ला करने का प्रस्ताव पारित किया था।

बनर्जी ने राज्य की कई अलग-अलग परियोजनाओं और कर मुद्दों पर भी चर्चा की।

विपक्षी नेताओं से अपनी मुलाकात के मुद्दे पर बनर्जी ने कहा, कई दल और उनके नेता पुराने दोस्त हैं। मैं उनसे मिल रही हूं।

बनर्जी ने यह भी कहा कि वह बुधवार को कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी से मुलाकात करेंगी।

उन्होंने कहा, बुधवार को मैं सोनिया गांधी से मिल रही हूं। उन्होंने मुझे चाय पर आमंत्रित किया है।

सभी विपक्षी दलों को एक मंच पर लाने की अपनी योजना पर, उन्होंने कहा, हालांकि लोकसभा चुनाव बहुत दूर हैं, मगर हमें पहले से योजना बनानी होगी। उत्तर प्रदेश, पंजाब और त्रिपुरा में विधानसभा चुनाव होंगे। हमारे लोग त्रिपुरा में गिरफ्तार किए गए थे।

इससे पहले उन्होंने कांग्रेस नेता और मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ से मुलाकात की।

विपक्षी नेताओं के साथ बनर्जी की बैठक को 2024 के लोकसभा चुनाव से पहले सभी विपक्षी दलों को एक साथ लाने की कोशिश के रूप में देखा जा रहा है। वह बुधवार को राकांपा प्रमुख शरद पवार से भी मुलाकात कर सकती हैं।

ममता बनर्जी पांच दिवसीय दौरे पर दिल्ली पर हैं।

–आईएएनएस

एकेके/एएनएम

You might also like

Comments are closed.