मप्र में एक दिन में 15 लाख टीके लगाकर रचा गया इतिहास

भोपाल, 21 जून (आईएएनएस)। कोरोना संक्रमण के खिलाफ मध्य प्रदेश लड़ाई लड़ने को तैयार है। यह बात वैक्सीनेशन महाअभियान के पहले दिन यहां के लोगों ने बता दिया है, एक दिन में 15 लाख लोगों ने टीकाकरण कराकर इतिहास रचा है।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि वैक्सीनेशन के माध्यम से प्रदेश के प्रत्येक नागरिक को कोरोना संक्रमण से सुरक्षित करना हमारा संकल्प है तथा इसे हम शीघ्र पूर्ण कर लेंगे। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में पूरे देश में चलाए जा रहे वैक्सीनेशन महाअभियान के अंतर्गत पहले दिन देश में सर्वाधिक 15 लाख टीके लगाए जाने का कार्य मध्यप्रदेश ने कर दिखाया है। यह मध्यप्रदेश के जनभागीदारी मॉडल की जीत है, जिसके द्वारा मध्यप्रदेश ने कोरोना की दूसरी लहर को प्रभावी ढंग से नियंत्रित किया गया।

मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि इस अद्भुत एवं पुनीत कार्य के लिए प्रदेश के शासकीय अमले सहित जनप्रतिनिधि, सामाजिक कार्यकर्ता, धर्मगुरु, पत्रकार, कलाकार, साहित्यकार, एडवोकेट, खिलाड़ी तथा सभी वर्ग के व्यक्ति जिन्होंने टीकाकरण अभियान में प्रत्यक्ष अथवा परोक्ष सहयोग किया है।

मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि मध्यप्रदेश में टीकाकरण महाअभियान के प्रथम दिन 10 लाख लोगों को टीका लगाने का लक्ष्य निर्धारित किया गया था। मध्यप्रदेश की क्षमताओं को देखते हुए प्रदेश को 05 लाख अतिरिक्त डोजेज केंद्र सरकार द्वारा भिजवाए गए। इसके लिए मैं प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी को धन्यवाद देता हूं।

मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि टीकाकरण अभियान जिंदगी बचाने का अभियान है। इससे पवित्र कार्य दूसरा नहीं हो सकता। सभी व्यक्तियों के टीकाकरण हो जाने तक यह अभियान पूरी शक्ति और ऊर्जा के साथ चलाया जाएगा। इसके साथ ही बीच-बीच में विशेष अभियान भी चलाए जाएंगे।

मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि आज जिस प्रकार पूरे उत्साह के साथ प्रदेश के हर हिस्से में लोगों ने टीकाकरण करवाया है, उससे यह स्पष्ट होता है कि अब टीकाकरण को लेकर जनता के मन में कोई भ्रम नहीं है।

उन्होंने बताया कि मैं स्वयं आज दतिया जिले के अनुसूचित जाति बाहुल्य ग्राम परासरी तथा सीहोर जिले के अनुसूचित जनजाति बाहुल्य ग्राम सिराली भी गया। इन दोनों ही स्थानों पर लोगों ने पूरे उत्साह के साथ टीकाकरण करवाया।

–आईएएनएस

एसएनपी/एसजीके

You might also like

Comments are closed.