भारत शांतिप्रिय राष्ट्र, लेकिन आक्रामकता का मुंहतोड़ जवाब दे सकता है : राजनाथ

गुवाहाटी, 17 जून (आईएएनएस)। रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने गुरुवार को कहा कि भारत एक शांतिप्रिय राष्ट्र है, लेकिन आक्रामकता के प्रति उसकी प्रतिक्रिया दृढ़तापूर्ण रही है।

रक्षामंत्री ने 20 किलोमीटर लंबी डबल लेन किमिन-पोटिन सड़क के साथ-साथ अरुणाचल प्रदेश में नौ अन्य सड़कों तथा केंद्र शासित प्रदेशों लद्दाख और जम्मू-कश्मीर में एक-एक सड़क का ऑनलाइन उद्घाटन करते हुए यह बात कही।

इस अवसर पर राजनाथ सिंह ने देश के दूरस्थ सीमावर्ती क्षेत्रों के बुनियादी ढांचे के विकास में योगदान के लिए, विशेष रूप से कोविड-19 प्रतिबंधों के बीच, बीआरओ की सराहना की।

उन्होंने कहा कि आज जिन सड़कों का उद्घाटन किया गया है, वे सामरिक और सामाजिक-आर्थिक महत्व रखती हैं, क्योंकि वे राष्ट्रीय सुरक्षा को मजबूत करने के साथ-साथ पूर्वोत्तर क्षेत्र के विकास को बढ़ावा देने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएंगी। उन्होंने कहा कि ये सड़कें हमारे सशस्त्र बलों की जरूरतों को पूरा करने और दवाओं और राशन जैसी जरूरतों को दूरदराज के क्षेत्रों तक पहुंचाने में मददगार साबित होंगी।

उन्होंने विकास के लिए समान अवसर प्रदान करने के लिए देश के सभी क्षेत्रों को समग्र राष्ट्रीय मुख्यधारा से जोड़ने के लिए सरकार के संकल्प को दोहराया।

इस अवसर पर बोलते हुए, सीमा सड़क संगठन के महानिदेशक लेफ्टिनेंट जनरल राजीव चौधरी ने अपने संबोधन में बीआरओ की उपलब्धियों का संक्षिप्त अवलोकन किया और सीमावर्ती क्षेत्रों के ढांचागत विकास के प्रति संगठन की प्रतिबद्धता दोहराई।

कार्यक्रम में अरुणाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री डॉ. हिमंत बिस्वा सरमा, अरुणाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री पेमा खांडू, केंद्रीय युवा मामले एवं खेल राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार), अल्पसंख्यक मामले और आयुष (स्वतंत्र प्रभार) किरण रिजिजू तथा चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ जनरल बिपिन रावत भी उपस्थित थे।

पूर्वोत्तर क्षेत्र विकास राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) और प्रधानमंत्री कार्यालय में राज्यमंत्री डॉ. जितेंद्र सिंह उन गणमान्य लोगों में मौजूद थे, जिन्होंने इस कार्यक्रम में वर्चुअल रूप से भाग लिया।

–आईएएनएस

एकेके/एसजीके

You might also like

Comments are closed.