बेघरों के टीकाकरण को प्राथमिकता दें राज्य और केंद्र शासित प्रदेश : केंद्र

नई दिल्ली, 31 जुलाई (आईएएनएस)। केंद्र ने सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को उन बेघर लोगों और भिखारियों का टीकाकरण करने का निर्देश दिया है, जिनके पास कोविड-19 महामारी के खिलाफ टीकाकरण के लिए संसाधन नहीं हैं।

केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने राज्यों के मुख्य सचिवों और केंद्र शासित प्रदेशों के प्रशासकों को ऐसे बेघर, भिखारियों और निराश्रितों के टीकाकरण के लिए स्वैच्छिक संस्थानों के साथ समन्वय करके विशेष अभियान चलाने और सत्र आयोजित करने का आदेश जारी किया।

नोटिस में कहा गया है, राष्ट्रव्यापी कोविड-19 टीकाकरण अभियान जन-केंद्रित है और सभी पात्र प्राथमिकता वाले समूहों को उनकी सामाजिक-आर्थिक स्थिति के बावजूद इसे सुलभ बनाने के लिए प्रावधान किए गए हैं।

प्रशासन इस कार्य को अंजाम देने के लिए गैर सरकारी संगठनों और नागरिक समाज संगठनों की मदद ले सकता है। नोटिस में कहा गया है कि इस समूह के लोगों के टीकाकरण के लिए एक विशेष सत्र की योजना बनाई जा सकती है।

इससे पहले भी, स्वास्थ्य मंत्रालय ने 6 मई को सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को भिखारियों, खानाबदोशों (एक स्थान से दूसरे स्थान पर विचरण करने वाला समुदाय) जैसे लोगों के ऐसे समूहों को कोविड टीकाकरण प्रदान करने की सलाह दी थी। इनमें पुनर्वास शिविरों में रहने वाले लोग भी शामिल हैं और ऐसे व्यक्तियों के टीकाकरण के संबंध में एसओपी साझा करते हुए, यह हिदायत दी गई थी, जिनके पास निर्धारित पहचान पत्र नहीं हैं।

स्वास्थ्य मंत्रालय ने फिर राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों से इस कार्य को प्राथमिकता के आधार पर करने का आह्वान किया है। राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों से अनुरोध किया गया है कि वे अपने संबंधित सामाजिक न्याय और अधिकारिता और स्वास्थ्य विभागों को निराश्रित, भिखारियों और आवारा लोगों के टीकाकरण की सुविधा के लिए मिलकर काम करने का निर्देश दें।

इस बीच, स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों में कहा गया है कि भारत में अब तक कुल 46,15,18,479 कोविड वैक्सीन की खुराक दी जा चुकी है।

पिछले 24 घंटों में कुल 52,99,036 लाख टीके की खुराक दी गई। भारत में पिछले 24 घंटों में 41,649 नए कोविड-19 मामले दर्ज किए, और इस अवधि में 593 मौतें हुईं।

31 जुलाई तक अब तक जांचे गए नमूनों की कुल संख्या 46.64 करोड़ तक पहुंच गई है।

–आईएएनएस

एकेके/एएनएम

You might also like

Comments are closed.