प्रश्नपत्र लीक मामले में बर्खास्त होंगे दोषी अधिकारी : येदियुरप्पा

बेंगलुरु, 24 जनवरी (आईएएनएस)। कर्नाटक लोक सेवा आयोग (केपीसीसी) के प्रश्नपत्र लीक मामले में रोष जताते हुए मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा ने दोषी पाए जाने वाले अधिकारियों को बर्खास्त करने की चेतावनी दी है। इस मामले में अब तक 14 लोगों को गिरफ्तार किया गया है।

येदियुरप्पा ने रविवार को यहां पत्रकारों से बातचीत में कहा कि प्रश्नपत्र लीक मामले में शामिल अधिकारियों को मैं न सिर्फ निलंबित करने के लिए तैयार हूं, बल्कि अगर वे दोषी पाए गए तो उन्हें सेवा से बर्खास्त भी किया जाएगा।

गौरतलब है कि केपीएससी ने 1,114 फर्स्ट डीविजन असिस्टेंट पदों के लिए रविवार को पूरे प्रदेश में होने वाली दोनों सत्रों की परीक्षाओं को शनिवार को ही रद्द कर दिया था।

मुख्यमंत्री ने कहा कि इस मामले में जो भी अधिकारी दोषी पाए जाएंगे उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी, क्योंकि प्रश्नपत्र लीक करना एक अक्षम्य अपराध है।

केपीएससी के सचिव जी सत्यवती के अनुसार, इन पदों के लिए 3,74,000 अभ्यर्थियों ने आवेदन किया था और 2,82,000 अभ्यर्थियों ने परीक्षा में शामिल होने के लिए अपना हॉल टिकट डाउनलोड किया था। यह परीक्षा दो सत्रों में होनी थी। सुबह के सत्र में सामान्य ज्ञान और दोपहर के सत्र में भाषा दक्षता की परीक्षा होनी थी।

खुफिया सूचना मिलने पर सेंट्रल क्राइम ब्रांच ने शनिवार को छह लोगों को गिरफ्तार कर उनके खिलाफ मामला दर्ज किया था। उन्होंने अभ्यर्थियों से कथित तौर पर 50 लाख से लेकर एक करोड़ रुपये तक में प्रश्नपत्र बेचा था। रविवार को आठ अन्य लोगों को गिरफ्तार किया गया। इनमें कुछ केपीएससी के अधिकारी भी हैं।

–आईएएनएस

एसआरएस/एसजीके

You might also like

Comments are closed.