पवार ने धनंजय मुंडे पर लगे आरोपों को बताया गंभीर, मलिक का किया बचाव

मुंबई, 14 जनवरी (आईएएनएस)। राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) अध्यक्ष शरद पवार ने गुरुवार को मंत्री धनंजय मुंडे पर लगे आरोपों को गंभीर बताया। हालांकि पवार ने मंत्री नवाब मलिक को यह कहकर क्लीन चिट दे दी कि उनके खिलाफ कोई व्यक्तिगत आरोप नहीं है।

मीडिया में पवार की प्रतिक्रिया उस समय सामने आई है, जब राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी विवादों में घिरी हुई है, क्योंकि मुंडे पर एक महिला ने दुष्कर्म के गंभीर आरोप लगाए हैं। वहीं मंत्री मलिक के दामाद को ड्रग्स मामले में नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (एनसीबी) द्वारा गिरफ्तार किया गया है।

पवार ने कहा, मुंडे सामने आए और उन्होंने घटना को लेकर अपना वर्जन दिया है। आरोप गंभीर प्रकृति के लगते हैं। मैं पार्टी के वरिष्ठ नेताओं को इसके बारे में अवगत कराऊंगा। इस मामले में जल्द ही फैसला लिया जाएगा।

पूर्व केंद्रीय मंत्री ने कहा, मलिक के खिलाफ कोई व्यक्तिगत आरोप नहीं हैं। वह स्वच्छ छवि वाले वरिष्ठ नेता हैं। हमें पूरा विश्वास है कि केंद्रीय एजेंसी इस मामले में उचित जांच करेगी। हम आगे के कदम उठाने से पहले इसकी रिपोर्ट का इंतजार करेंगे।

वहीं राकांपा के राज्य अध्यक्ष जयंत पाटिल ने कहा है कि महिला ने मुंडे को धमकी दी और ब्लैकमेल किया है, जिन्होंने मुंबई पुलिस और बॉम्बे हाईकोर्ट में भी इसकी शिकायत की है।

पाटिल ने कहा, हालांकि आरोप गंभीर हैं और मामले के तथ्यों पर भी विचार करने की आवश्यकता है। उन्होंने एक साल पहले पार्टी को इस बारे में सूचित किया था। पुलिस अपना काम करेगी। मुंडे के इस्तीफे पर कोई चर्चा नहीं हुई है।

मुंडे का कहना है वह पार्टी और उसके अध्यक्ष (पवार) के किसी भी निर्णय का पालन करने को तैयार हैं।

अपनी टिप्पणियों के कुछ ही समय बाद पवार ने प्रफुल्ल पटेल और राज्य अध्यक्ष जयंत पाटिल जैसे शीर्ष राकांपा नेताओं के साथ हालिया घमासान पर चर्चा की, जिसने सत्तारूढ़ महा विकास अघाड़ी सरकार को शर्मिदा किया है।

–आईएएनएस

एकेके/एसजीके

You might also like

Comments are closed.