नासा व कैलटेक के अधिकारियों ने इसरो का दौरा किया

चेन्नई, 12 सितंबर (आईएएनएस)| भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) ने बताया कि कैलिफोर्निया इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी (कैलटेक) और नेशनल एरोनॉटिक्स एंड स्पेस एडमिनिस्ट्रेशन (नासा) के जेट प्रोपल्शन लेबोरेटरी (जेपीएल) के अधिकारियों ने गुरुवार को उनके मुख्यालय का दौरा किया। इस दौरान इन अधिकारियों ने इसरो के चेयरमैन के. सिवन से मुलाकात की। इसरो ने एक बयान में कहा, “अमेरिका के कैलिफोर्निया इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी के पदाधिकारी प्रोफेसर डेविड टेरेल ने इसरो मुख्यालय, बेंगलोर का दौरा किया और 11 सितंबर, 2019 को इसरो के चेयरमैन व डिपार्टमेंट ऑफ स्पेस (डीओएस) के सचिव के. सिवन से मुलाकात की।”

इसरो ने कहा कि इस दौरान टेरेल के साथ जेपीएल के उप-निदेशक जनरल लैरी जेम्स और कैलटेक के अन्य वरिष्ठ अधिकारी भी मौजूद थे।

इसरो ने हालांकि बैठक के उद्देश्यों पर कोई बयान नहीं दिया।

भारतीय अंतरिक्ष एजेंसी कैलटेक के सहयोग से भारतीय अंतरिक्ष विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी संस्थान (आईआईएसटी) द्वारा निर्मित एक उपग्रह लॉन्च करेगी।

सिवन ने इस साल की शुरुआत में आईएएनएस को बताया था, “आईआईएसटी कैलिफोर्निया प्रौद्योगिकी संस्थान के साथ एक उपग्रह डिजाइन कर रहा है।”

आईआईएसटी डीओएस के तहत काम करने वाला एक स्वायत्त निकाय है। यह 2007 में स्थापित एक डीम्ड विश्वविद्यालय भी है।

कैलटेक के अनुसार, छात्र द्वारा डिजाइन व निर्मित किए गए उपग्रह का एक नए प्रकार के स्पेस टेलीस्कोप के लिए परीक्षण होगा। इसे ऑटोनोमस असेंबली ऑफ ए रिकंफिरेबल स्पेस टेलिस्कोप (एएआरईएसटी) नाम दिया गया है।

एएआरईएसटी कैलटेक के छात्रों द्वारा डिजाइन व निर्मित किया गया है।

 

You might also like

Comments are closed.