दिल्ली: बढ़ते कोरोना के बीच सीबीएससी छात्रों के समर्थन में उतरे सीएम, वहीं युवाओं से की अपील

नई दिल्ली, 13 अप्रैल (आईएएनएस)। दिल्ली में बढ़ते कोरोना मामलों के बीच दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने प्रेस वार्ता की, इसमें उन्होंने युवाओं और बच्चों को लेकर अपनी चिंता व्यक्त की और कड़ाई के साथ नियमों का पालन करने की बात कही है। वहीं केंद्र सरकार से बच्चों की सीबीएससी परीक्षा रद्द करने की अपील भी की है।

मुख्यमंत्री केजरीवाल ने कहा, युवा देश और परिवार के लिए कीमती हैं। आपका स्वास्थ्य, सुरक्षा हम सब के लिए बेहद जरूरी है। इस बार की लहर बेहद खतरनाक है, इसका युवाओं पर ज्यादा प्रभाव पड़ रहा है। बच्चे भी इससे प्रभावित हो रहे हैं। पिछले 10 से 15 दिन का डेटा ये बतलाता है कि 45 साल से कम उम्र के 65 फीसदी कोरोना मरीज आएं हैं।

मुख्यमंत्री केजरीवाल ने अपील करते हुए कहा, मैं समझ सकता हूं आपके ऊपर परिवार की जिम्मेदारी, दो वक्त की रोटी के लिए घर से निकलना पड़ता है। लेकिन ऐसे में घर से तभी निकले जब जरूरी हो। सारे नियमों का पूरी तरह से पालन करें। वहीं यदि आप 45 साल से उम्र के व्यक्ति हैं, तो जाकर वैक्सीन लगवालें।

दूसरी ओर मुख्यमंत्री केजरीवाल ने बच्चों को लेकर भी अपनी चिंता व्यक्त की है। उन्होंने केंद्र सरकार से बच्चों के लिए अपील करते हुए कहा, बच्चों के लिए हमारी सुरक्षा बेहद जरूरी है। बच्चों की सीबीएससी की परीक्षा आने वाली है, 6 लाख बच्चे इन परीक्षाओं में बैठेंगे, वहीं एक लाख के करीब टीचर शामिल होंगे। यह खतरनाक साबित हो सकता है। इससे बड़े पैमाने पर कोरोना फैल सकता है। बच्चों की सेहत, जिंदगी और स्वास्थ्य बहुत जरूरी है।

केंद्र सरकार से अपील करता हूं कि इन परीक्षाओं को रद्द किया जाए, इसका कोई और तरीका निकाला जा सकता है। या तो ऑनलाइन माध्यम या इंटरनल एसेसमेंट करके बच्चों को पास किया जा सकता है।।

मुख्यमंत्री ने आगे कहा, कई देशों ने परीक्षाएं रद्द की हैं, हमारे देश में कई राज्यो ने परीक्षाएं रद्द कर दी हैं, मेरी केंद्र सरकार से अपील है कि परीक्षाओं को रद्द किया जाए।

— आईएएनएस

एमएसके/एएसएन

You might also like

Comments are closed.