तीन सत्रों की तेजी पर ब्रेक, गिरावट के साथ बंद हुआ सेंसेक्स (राउंडअप)

 मुंबई, 12 जून (आईएएनएस)| लगातार तीन कारोबारी सत्रों की तेजी के बाद बुधवार को घरेलू शेयर बाजार में कारोबारी रुझान कमजोर रहा। बिकवाली का दबाव बढ़ने केकारण प्रमुख संवेदी सूचकांकों में गिरावट दर्ज की गई।

 भारी उतार-चढ़ाव के बाद सत्र के आखिर में बीएसई का प्रमुख संवेदी सूचकांक सेंसेक्स 193.65 अंकों यानी 0.48 फीसदी गिरावट के साथ 39,756.81 पर बंद हुआ। एनएसई का प्रमुख संवेदी सूचकांक निफ्टी भी 59.40 अंकों यानी 0.50 फीसदी गिरावट के साथ 11,906.20 पर बंद हुआ। यस बैंक के शेयर के दाम में तीन फीसदी से ज्यादा की गिरावट दर्ज की गई।

सेंसेक्स के सर्वाधिक गिरावट वाले पांच प्रमुख शेयरों में यस बैंक (3.34 फीसदी), मारुति (1.79 फीसदी), कोटक बैंक (1.65 फीसदी), हीरोमोटरकार्प (1.55 फीसदी) और बजाज ऑटो (1.38 फीसदी) शामिल रहे। वहीं, सर्वाधिक तेजी वाले पांच प्रमुख शेयरों में टाटा स्टील (2.60 फीसदी), ओएनजीएसी (0.86 फीसदी), वीईडीएल (0.50 फीसदी), सनफार्मा (0.47 फीसदी) और टीसीएस (0.25 फीसदी) शामिल रहे।

बंबई स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) का 30 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक सेंसेक्स सुबह 23.72 अंकों की बढ़त के साथ 39,974.18 पर खुला और कारोबार के दौरान 39,982.10 तक उछला। हालांकि दिनभर के कारोबार के दौरान सेंसेक्स का निचला स्तर 39,623.53 रहा।

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का 50 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक निफ्टी 3.15 अंकों की कमजोरी के साथ 11,962.45 पर खुला और 59.40 अंकों यानी 0.50 फीसदी की गिरावट के साथ 11,906.20 पर बंद हुआ। दिनभर के कारोबार के दौरान निफ्टी का ऊपरी स्तर 11,962.45 जबकि निचला स्तर 11,866.35 रहा।

बीएसई का मिड-कैप सूचकांक 118.41 अंकों यानी 0.79 फीसदी गिरावट के साथ 14,922.46 पर बंद हुआ। वहीं, स्मॉल-कैप सूचकांक 70.25 अंकों यानी 0.48 फीसदी गिरावट के साथ 14,548.72 पर बंद हुआ।

बीएसई के 19 सेक्टरों के सूचकांकों में से 17 में गिरावट, जबकि दो में बढ़त दर्ज की गई। सबसे ज्यादा गिरावट वाले सेक्टरों में रियल्टी (1.94 फीसदी), दूरसंचार (1.55 फीसदी), पूंजीगत वस्तुएं (1.15 फीसदी), ऑटो (1.12 फीसदी) और बैंक इंडेक्स (1.01 फीसदी) रहे। वहीं, धातु सेक्टर के सूचकांक में 0.43 फीसदी, जबकि एफएमसीजी में 0.01 फीसदी की बढ़त दर्ज की गई।

बीएसई में कारोबार का रुझान नकारात्मक रहा। कुल 1,111 शेयरों में तेजी, जबकि 1,608 में गिरावट दर्ज की गई और 180 शेयरों के भाव में कोई बदलाव नहीं हुआ।

You might also like

Comments are closed.