जेएनयू: जबरन लाइब्रेरी में घुसने की कोशिश, पुलिस ने दर्ज किया मामला

नई दिल्ली, 10 जून (आईएएनएस)। जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय में लाइब्रेरी खुलवाने को लेकर हिंसा की वारदात दर्ज की गई है। लाइब्रेरी खुलवाने की जिद कर रहे कुछ छात्रों ने लाइब्रेरी में घुसने की कोशिश की और इस दौरान सुरक्षाकर्मियों से धक्का मुक्की भी की गई।

छात्रों का कहना था कि उन्हें अपनी पढ़ाई जारी रखने के लिए लाइब्रेरी के इस्तेमाल की आवश्यकता है। पुलिस ने सरकारी आदेश का उल्लंघन और महामारी अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया है।

इस प्रकरण में वसंतकुंज नॉर्थ पुलिस स्टेशन में छात्रों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है।कोरोना संक्रमण के कारण छात्रों के लिए लाइब्रेरी बंद है। पुलिस के मुताबिक छात्रों का एक समूह पुस्तकालय के बाहर इकट्ठा हुआ और गार्ड से लाइब्रेरी के गेट खोलने को कहा लेकिन गार्ड ने गेट नहीं खोला। इसके बाद वहां मौजूद छात्रों और सुरक्षाकर्मियों में बहस और फिर धक्का-मुक्की शुरू हो गई धक्का-मुक्की शुरू हो गई।

जेएनयू विश्वविद्यालय प्रशासन की शिकायत पर पुलिस ने पांच छात्रों को नामजद किया गया है। पुलिस अब सीसीटीवी फुटेज से आरोपियों की पहचान कर रही है।

जेएनयू विश्वविद्यालय प्रशासन की ओर से सुरक्षा अधिकारी केपी सिंह ने पुलिस को शिकायत दी। अपनी शिकायत में केपी सिंह ने कहा कि मंगलवार रात कई छात्र लाइब्रेरी के बाहर जमा हुए। छात्र लाइब्रेरी खोलने की जिद पर अड़े थे। सुरक्षाकर्मियों के मुताबिक उन्होंने घेरा बनाकर छात्रों को लाइब्रेरी जाने से रोका। इस पर कुछ छात्र सुरक्षाकर्मियों के साथ धक्कामुक्की करने लगे। इस सब में लाइब्रेरी का एक शीशा टूट गया।

इसके बाद मामले की सूचना पुलिस को दी गई।पुलिस के अनुसार, घटना आठ जून की है और विश्वविद्यालय के मुख्य सुरक्षा अधिकारी की शिकायत पर बुधवार को मामला दर्ज किया। हालांकि अभी किसी की गिरफ्तारी नहीं हुई है।

–आईएएनएस

जीसीबी/जेएनएस

You might also like

Comments are closed.