चिन्मयानंद की हालत स्थिर, निगरानी में रहेंगे

लखनऊ, 26 सितम्बर (आईएएनएस)| कानून की एक छात्रा का यौन शोषण करने के आरोपी पूर्व केंद्रीय मंत्री चिन्मयानंद की हालत अब स्थिर है। संजय गांधी पोस्ट ग्रेजुएट इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज (एजीपीजीआईएमएस) ने गुरुवार को जारी एक बयान में यह जानकारी दी। चिन्मयानंद को सीने में दर्द व बेचैनी की शिकायत के बाद सोमवार को लखनऊ लाया गया और एजीपीजीआईएमएस में भर्ती किया गया।

मुख्य चिकित्सा अधीक्षक प्रोफेसर अमित अग्रवाल के अनुसार, “स्वामी चिन्मयानंद को कार्डियोलॉजी विभाग के प्रमुख प्रोफेसर पी.के.गोयल की देखरेख में कार्डियोलॉजी वॉर्ड में भर्ती किया गया है। उनकी हालत स्थिर है लेकिन उन्हें निगरानी में रखा गया है।”

अस्पताल के सूत्रों ने कहा कि उनका रक्तचाप व सभी दूसरे पैरामीटर सामान्य हैं, लेकिन चिकित्सक उन्हें निगरानी के तहत रखना चाहते हैं।

शाहजहांपुर की एक स्थानीय अदालत ने एक कानून की छात्रा का यौन उत्पीड़न करने को लेकर 20 सितंबर को चिन्मयानंद को 14 दिनों के लिए न्यायिक हिरासत में भेज दिया था।

कानून की छात्रा चिन्मयानंद के कॉलेज में पढ़ती थी। वह सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल होने के बाद 24 अगस्त को लापता हो गई थी। इस वीडियो में कथित तौर पर संत समाज के एक व्यक्ति द्वारा उसे व उसके माता-पिता को जान से मारने की धमकी देने की बात कही गई थी।

 

You might also like

Comments are closed.