चंद घंटों में धराया गया चिंचवड़ हत्या का आरोपी

एकतरफा प्यार में की वारदात

पिम्परी। पुणे समाचार ऑनलाइन

बीती देर रात चिंचवड़ के पूर्णानगर इलाके में 10वीं के छात्र की निर्मम हत्या की वारदात को सुलझाने में निगड़ी पुलिस को कामयाबी मिल गई है। यह हत्या एकतरफा प्यार में की गई है, ऐसा पुलिस की जांच में सामने आया है। वारदात के चंद घंटों में ही पुलिस ने इस मामले में रोहन प्रदीप म्हालगिकर (18) निवासी पूर्णानगर, चिंचवड़, पुणे को गिरफ्तार कर लिया।

वेदांत जयवंत भोसले (15) निवासी पूर्णानगर, चिंचवड़, पुणे नामक छात्र की बीती देर रात हत्या किए जाने की वारदात उजागर हुई है। इस बारे में उसकी मां जान्हवी भोसले ने निगड़ी पुलिस में शिकायत दर्ज कराई है। वेदांत यमुनानगर के माता अमृता विद्यालय की 10वीं कक्षा में पढ़ रहा था। बीती रात अपनी सहपाठी को पढ़ाई के बाद वह उसके घर छोड़ने गया था। तब वापसी में गला व अन्य हिस्सों पर घातक हथियार से वार कर उसकी हत्या कर दी गई।

अपनी दोस्त को घर छोड़ने के लिये निकला वेदांत काफी देर तक घर नहीं लौटा, जब उसकी मां उसे खोजने बाहर निकली, तब वह रक्तरंजित अवस्था में पड़ा मिला। उसे तुरंत वाइसीएम हॉस्पिटल में ले जाया गया, जहाँ डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। हत्या का मामला दर्ज करने के बाद निगड़ी पुलिस की टीमें हत्यारे की तलाश में जुट गई।

निगड़ी पुलिस ने लाश को पोस्टमार्टम के लिए भेज कर मामले की छानबीन शुरु कर दी है। वारदात के पीछे प्रेम प्रकरण वजह रहने का अंदेशा लगाया जा रहा है। बहरहाल पुलिस हर पहलू से मामले की जांच में जुटी है। पुलिस कर्मी संदीप पाटिल और विलास केकाण को मुखबिर से रोहन के बारे में पता चला, जो वेदांत की दोस्त व सहपाठी से एकतरफा प्यार करता था। शक की बुनियाद पर हिरासत में लेकर पूछताछ करने पर रोहन ने वारदात स्वीकार कर ली। बीती रात जब वेदांत अपनी दोस्त को घर छोड़ कर अपने घर लौट रहा था तब रोहन ने उसे घर छोड़ने को कहा और थोडी दूर तक जाने के बाद उसपर हमला कर दिया। उसे शक था कि वेदांत और उसकी सहपाठी का अफेयर है और इसी के चलते उसने इस वारदात को अंजाम दिया।

बहरहाल तीन दिन पहले थेरगांव में वर्चस्व की लड़ाई में एक युवक की निर्मम हत्या के बाद बीते दिन कॉलेज में ही मामूली विवाद में एक छात्र पर जानलेवा हमला किये जाने की घटना घटी है। आज और एक छात्र की इस तरह से निर्मम हत्या का मामला सामने आया है। लगातार हो रही ऐसी वारदातों से पिम्परी चिंचवड़ में ख़ौफ व्याप्त है।

You might also like

Comments are closed.