ग्रीन क्लाउड कॉल की वजह से दूसरी तिमाही में अमेजन वेब सर्विस क्लाउड सर्विस में रही अव्वल

नई दिल्ली, 31 जुलाई (आईएएनएस)। अमेजन वेब सर्विसेज (एडब्ल्यूएस) दूसरी तिमाही में अग्रणी क्लाउड सर्विस प्रोवाइडर है, जो सालाना आधार पर 37 फीसदी बढ़ने के बाद कुल खर्च का 31 फीसदी है। क्लाउड वेंडर्स का लक्ष्य ग्रीन भविष्य के लिए कार्बन फुटप्रिंट में कटौती करना है।

मार्केट रिसर्च फर्म कैनालिस की रिपोर्ट के मुताबिक, माइक्रोसॉफ्ट एज्योर 22 फीसदी मार्केट शेयर के साथ दूसरा सबसे बड़ा क्लाउड सर्विस प्रोवाइडर था, इसके बाद गूगल क्लाउड ने लेटेस्ट तिमाही में 66 फीसदी की वृद्धि की और 8 फीसदी मार्केट शेयर के लिए जिम्मेदार था।

क्लाउड इन्फ्रास्ट्रक्च र सेवाओं का खर्च दूसरी तिमाही में 36 प्रतिशत बढ़कर 47 बिलियन डॉलर हो गया है। क्योंकि वर्कलोड माइग्रेशन और क्लाउड नेटिव एप्लिकेशन डेवलपमेंट में तेजी आई है।

शुक्रवार को जारी किए गए कैनालिस के आंकड़ों के अनुसार, व्यय पिछली तिमाही की तुलना में 5 बिलियन डॉलर से अधिक और 2020 की दूसरी तिमाही की तुलना में 12 बिलियन डॉलर से अधिक है।

कैनालिस के मुख्य विश्लेषक मैथ्यू बॉल ने कहा, सरकारों से विनियमन, विशेष रूप से पेरिस समझौते से बंधे हुए, तेज होते रहेंगे, जबकि क्लाउड सेवाओं के अनुबंधों की बढ़ती हिस्सेदारी में स्थिरता की आवश्यकताएं होंगी।

वर्तमान में, अमेजॅन का 40 प्रतिशत परिचालन नवीकरणीय ऊर्जा पर चलता है और 2030 तक 100 प्रतिशत स्रोत प्राप्त करने की योजना है। एडब्ल्यूएस की योजना 2025 तक 100 प्रतिशत नवीकरणीय ऊर्जा के साथ अपने संचालन को शक्ति प्रदान करने की है।

माइक्रोसॉफ्ट 2012 से कार्बन न्यूट्रल रहा है और 2030 तक कार्बन नेगेटिव और वाटर पॉजि़टिव होने का लक्ष्य रखता है। यह अंडरवाटर डेटा सेंटर्स और हाइड्रोजन फ्यूल सेल के साथ भी इनोवेशन कर रहा है। और 2025 तक अपने डेटा सेंटर्स को 100 प्रतिशत नवीकरणीय ऊर्जा से संचालित करने की योजना बना रहा है।

कैनालिस रिसर्च एनालिस्ट ब्लेक मरे ने कहा, क्लाउड सेवा प्रदाताओं द्वारा संचालित डेटा केंद्रों से वितरित डिजिटल सेवाओं से ऊर्जा के उपयोग और कार्बन उत्सर्जन के बारे में जागरूकता बढ़ रही है। लेकिन अग्रणी प्रदाता भी पर्यावरणीय लचीलापन प्रयासों में सबसे आगे हैं।

–आईएएनएस

एनपी/एएनएम

You might also like

Comments are closed.