कोलकाता के पूर्व आयुक्त को पूछताछ के लिए फिर से समन

कोलकाता, 16 सितम्बर (आईएएनएस)| वरिष्ठ आईपीएस अधिकारी व कोलकाता के पूर्व शीर्ष पुलिस अधिकारी राजीव कुमार द्वारा केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) को सारदा घोटाले की जांच के संबंध में और समय दिए जाने की मांग करते हुए ईमेल भेजने के दो दिन बाद जांच एजेंसी ने राजीव कुमार को सोमवार दोपहर बाद फिर से अपने समक्ष पेश होने का समन भेजा है।

जांच से जुड़े एक वरिष्ठ अधिकारी ने नई दिल्ली में आईएएनएस से कहा, “हमने कुमार को कोलकाता में आज अपने साल्ट लेक ऑफिस में दोपहर बाद 2 बजे पूछताछ के लिए समन भेजा है।”

अधिकारी ने कहा कि एजेंसी ने पुलिस महानिदेशक (डीजीपी), मुख्य सचिव व पश्चिम बंगाल के गृह सचिव को भेजे गए पत्रों में पूर्व पुलिस अधिकारी के समन की सूचना दी है।

राज्य के वरिष्ठ अधिकारियों को भेजे गए चार पत्रों में सिर्फ दो डीजीपी कार्यालय द्वारा प्राप्त किए गए, जबकि बाकी को राज्य के मुख्य सचिव व गृह सचिव के लिए चिन्हित किया गया, लेकिन रविवार को अवकाश होने की वजह से उन्हें प्राप्त नहीं किया गया।

अधिकारी ने कहा कि डीजीपी को सौंपे गए पत्र में कुमार के ठिकाने के बारे में व छुट्टी के कारणों के बारे में पूछा गया।

अधिकारी ने कहा कि सीबीआई फिर से सरकारी अधिकारियों से सोमवार को मिलेगी और कुमार की जानकारी की मांग करते हुए पत्र सौंपेगी।

अधिकारी ने कहा कि कुमार से पूछताछ के लिए सीआरपीएफ की एक कंपनी साल्ट लेक में सीबीआई कार्यालय पर तैनात की जाएगी, जिससे कानून व व्यवस्था की समस्या से बचा जा सके।

सीबीआई ने पूछताछ के लिए कुमार को शनिवार को समन किया था। ऐसा सीबीआई ने कलकत्ता हाई कोर्ट से उन्हें गिरफ्तारी से मिला अंतिम संरक्षण वापस लेने के बाद किया गया। कोर्ट ने पूर्व कोलकाता पुलिस आयुक्त को सारदा चिट फंड घोटाला मामले में गिरफ्तारी से संरक्षण दिया था।

कोर्ट ने कुमार को 30 मई को अंतरिम संरक्षण दिया था और इसे कई बार बढ़ाया था।

 

Comments are closed.