कैट ने मास्टर प्लान ड्रा़फ्ट का किया स्वागत, कहा-दिल्ली में व्यापार के नए अवसर मिलेंगे

नई दिल्ली, 10 जून (आईएएनएस)। दिल्ली विकास प्राधिकरण द्वारा दिल्ली के मास्टर प्लान 2041 के ड्राफ्ट के जारी किये जाने का कॉन्फेडरेशन ऑफ आल इंडिया ट्रेडर्स (कैट) ने स्वागत किया है और यह उम्मीद जताई है की इस मास्टर प्लान से दिल्ली के व्यापारियों को सीलिंग और तोड़ फोड़ से छुटकारा मिलेगा और दिल्ली में व्यापार के नए अवसर मिलेंगे।

कैट के दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष विपिन आहूजा एवं प्रदेश महामंत्री श्री देवराज बवेजा, सतेंद्र वधवा एवं आशीश ग्रोवर ने एक संयुक्त वक्तव्य में स्वागत करते हुए उम्मीद जताई है की इस मास्टर प्लान से दिल्ली के व्यापारियों को सीलिंग और तोड़ फोड़ से छुटकारा मिलेगा और दिल्ली में व्यापार के नए अवसर मिलेंगे।

कैट के राष्ट्रीय महामंत्री प्रवीन खंडेलवाल ने केंद्रीय शहरी विकास मंत्री हरदीप पुरी का आभार व्यक्त करते हुए कहा, 1962 के बाद यह पहली बार है जब दिल्ली के मास्टरप्लान का ड्राफ्ट ठीक समय पर जारी किया गया है। समय से मास्टरप्लान का ड्राफ्ट जारी होना दिल्ली की सुनियोजित विकास के प्रति केंद्र सरकार की गंभीरता और विशेष तौर पर हरदीप पुरी की प्राथमिकता को दर्शाता है।

कैट के राष्ट्रीय महामंत्री प्रवीन खंडेलवाल ने कहा , मास्टरप्लान के ड्राफ्ट पर एक दृष्टि डालने के बाद यह साफ दिखाई देता है की यह मास्टरप्लान कई मायनों में पहले के मास्टरप्लान से भिन्न है। इस मास्टर प्लान में हरे पर्यावरण, आई टी, सर्विस सेक्टर ,हॉस्पिटैलिटी सेक्टर, कमजोर वर्गों के लिए हाउसिंग और दिल्ली की प्रचीन धरोहर को संरक्षित रखने अवं उसके सुव्यवस्थित विकास पर काफी जोर दिया गया है, जो स्वागतयोग्य है।

कैट के दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष विपिन आहूजा ने कहा, उद्योगिक क्षेत्रों में व्यावसायिक गतिविधियों को स्वीकृति देने का प्रस्ताव भी स्वागत योग्य है। वहीं कोरोना के बाद जिस तरीके से व्यापारिक गतिविधियों में बदलाव आया है उसको देखते हुए जो कदम उठाये गए हैं, उनसे भी दिल्ली में विकास की गति में तेजी आएगी।

कैट के अनुसार, मास्टरप्लान के ड्राफ्ट पर दिल्ली के सभी व्यापारिक संगठनों से व्यापक चर्चा के लिए एक 11 सदस्य समिति का गठन किया है जो व्यापारी संगठनों से बातचीत कर एक विस्तृत ज्ञापन तैयार कर केंद्रीय विकास मंत्री हरदीप पुरी को शीघ्र सौंपेंगे।

–आईएएनएस

एमएसके/आरएचए

You might also like

Comments are closed.