कुरैशी को अमेरिका, तालिबान द्वारा दोहा समझौता पालन करने की उम्मीद

इस्लामाबाद, 23 फरवरी (आईएएनएस)। पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने कहा कि उन्हें उम्मीद है कि अमेरिका और तालिबान फरवरी 2020 में दोनों (अमेरिका और तालिबान) के बीच हुए दोहा समझौते का पालन करते रहेंगे।

पाकिस्तान की न्यूज एजेंसी डॉन के मुताबिक, कुरैशी ने कहा कि उन्हें यह भी उम्मीद है कि अफगानिस्तान संघर्ष के राजनीतिक समाधान को प्राप्त करने के लिए अमेरिका -तालिबान समझौते के कार्यान्वयन में प्रगति बनी हुई है।

टोलो न्यूज के अनुसार, उन्होंने कहा कि वह इस बात को लेकर उत्सुक हैं कि अफगानिस्तान में स्थायी शांति और स्थिरता हासिल करने के लिए सामूहिक प्रयास फलीभूत होंगे।

दोहा समझौता के तहत 1 मई तक अफगानिस्तान से सभी अंतर्राष्ट्रीय बलों की वापसी के लिए कहा गया है। इस बीच, इसने तालिबान से अल-कायदा और अन्य आतंकवादी समूहों के साथ अपने संबंधों को खत्म करने के लिए कहा है।

यह सोमवार को दोहा में अफगान रिपब्लिक और तालिबान के शांति वातार्कारों के बीच एक बैठक आयोजित होने के बाद आया है।

तालिबान के प्रवक्ता मोहम्मद नईम ने एक ट्वीट में कहा कि दोनों पक्षों ने वार्ता के एजेंडे पर अपनी बैठकों को जारी रखने की आवश्यकता पर जोर दिया।

अफगान और अमेरिकी अधिकारियों ने कहा है कि तालिबान को हिंसा को कम करना चाहिए और वार्ता की मेज पर लौटना चाहिए।

–आईएएनएस

वीएवी/एएनएम

You might also like

Comments are closed.