कस्टम के सामने पेश नहीं हुए केरल के स्पीकर, बीमारी का दिया हवाला

तिरुवनंतपुरम, 8 अप्रैल (आईएएनएस)। केरल विधानसभा के अध्यक्ष और वरिष्ठ सीपीआई-एम नेता पी.श्रीरामकृष्णन गुरुवार को बीमारी का हवाला देते हुए गुरुवार को सीमा शुल्क विभाग के कोच्चि कार्यालय में पेश नहीं हुए। ऐसा दूसरी बार हुआ है जब वे विभाग द्वारा नोटिस जारी किए जाने के बाद भी पेश नहीं हुए।

श्रीरामकृष्णन को डॉलर तस्करी मामले में उनकी कथित भूमिका में पूछताछ के लिए 8 अप्रैल को सीमा शुल्क ने नोटिस जारी किया था। उनकी भूमिका को लेकर सोने के 2 तस्करों ने दावा किया था। नोटिस मिलने के बाद श्रीरामकृष्णन ने सीमा शुल्क को सूचित किया है कि वह अस्वस्थ है और इसलिए वह जांच एजेंसी के सामने पेश होने में असमर्थ है।

इससे पहले श्रीरामकृष्णन को 12 मार्च को सीमा शुल्क के सामने पेश होने के लिए कहा गया था और तब भी उन्होंने पूछताछ के लिए उपलब्ध होने में असमर्थता जताई थी।

उनका नाम पिछले दिसंबर में सोने की तस्करी मामले के मुख्य आरोपी स्वप्न सुरेश द्वारा दिए गए बयान के बाद सामने आया था। इसके बाद से ही वह विपक्ष की कड़ी आलोचना झेल रहे हें और सदन में जनवरी में उन्हें हटाने का प्रस्ताव भी लाया गया था, लेकिन वह खारिज हो गया था।

इसी मामले में सीपीआई-एम के पूर्व राज्य सचिव विनोदिनी बालाकृष्णन की पत्नी भी अब तक 3 नोटिस दिए जाने के बाद भी सीमा शुल्क विभाग के सामने पेश नहीं हो पाई हैं।

केरल विधानसभा चुनाव प्रचार के दौरान हाल ही में सत्तारूढ़ सीपीआई-एम के नेतृत्व वाली वाम सरकार ने कहा था कि विभिन्न केंद्रीय एजेंसियां पिनारई विजयन सरकार के सुशासन को बर्बाद करने में जुटी हुईं हैं।

–आईएएनएस

एसडीजे/आरजेएस

You might also like

Comments are closed.