कन्नड़ लेखक भगवान पर महिला वकील ने स्याही फेंकी

बेंगलुरु, 5 फरवरी (आईएएनएस)। एक महिला वकील और राजनेता मीरा राघवेंद्र ने शहर के मजिस्ट्रेट कोर्ट परिसर में रेशनलिस्ट (तर्कवादी) कन्नड़ लेखक के.एस.भगवान के चेहरे पर काली स्याही फेंक दी।

उन्होंने न केवल उन्हें अपने खिलाफ कोई कार्रवाई शुरू करने की हिम्मत दिखाने की चुनौती दी बल्कि अपनी हरकत को सही ठहराते हुए 34 सेकंड की क्लिप को अपने ट्विटर टाइमलाइन पर पोस्ट भी कर दिया।

अपने ट्विटर बायो में, वह राजनेता होने का दावा करती हैं लेकिन उस पार्टी के नाम का उल्लेख नहीं किया है जिसके साथ वह जुड़ी हुई हैं।

उन्होंने गुरुवार को ट्वीट कर कहा कि हिंदू भावनाओं को आहत करने से जुड़े एक मामले में भगवान जमानत पाने में कामयाब रहे लेकिन मुझे संतोष है कि मैंने उनके चेहरे पर स्याही फेंकी जय श्री राम।

एक क्लिप में, एक महिला (जिसकी पहचान आईएएनएस द्वारा स्वतंत्र रूप से सत्यापित नहीं की जा सकी) को लेखक के खिलाफ यह कहते हुए सुना जा सकता है कि उसे धर्म पर अपने रुख के लिए शर्मिदा होना चाहिए। भगवान पर वह चीखते हुए यह कहते सुनी जा सकती हैं, आप एक प्रोफेसर हैं और इतने उम्रदराज हैं, फिर भी आप हमारे धर्म हिंदू धर्म और देवी- देवताओं के बारे में बकवास बोलते रहते हैं। क्या आपको खुद पर शर्म नहीं आती है।

भगवान सनातन धर्म और इसके रीति-रिवाजों के सबसे कट्टर आलोचकों में से एक हैं और उन्होंने भगवान राम के खिलाफ किताबें लिखी हैं। हिंदू धर्म पर उनकी कितातों और विचारों की दक्षिमपंथियों ने जबरदस्त आलोचना की है।

हाल ही में, कर्नाटक ने सरकार द्वारा संचालित सार्वजनिक पुस्तकालयों से अयोध्या में राम मंदिर का विरोध करने को लेकर उनकी पुस्तक राम मंदिर येके बेदा (हमें राम मंदिर की आवश्यकता क्यों नहीं है) को हटा दिया है।

पत्रकार गौरी लंकेश की हत्या की जांच कर रही एक पुलिस टीम ने कहा कि कथित हत्यारों के निशाने पर भगवान का नाम भी था। उनकी जान को खतरे के कारण उन्हें पिछले कुछ वर्षों से सुरक्षा प्रदान की गई है।

राघवेंद्र ने 17 दिसंबर, 2020 को घोषणा की थी कि उन्होंने उनके खिलाफ मामला दर्ज कराया है और जल्द ही उन्हें अदालत द्वारा तलब किया जाएगा।

सेंट्रल अनुचेत के डीसीपी ने कहा कि महिला मीरा राघवेंद्र के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है।

एक पुलिस अधिकारी ने कहा, जब वह (भगवान) कार से बाहर निकले, तो उन्होंने (राघवेंद्र) उन पर स्याही फेंक दी।

अपनी शिकायत में, भगवान ने अपनी जान को खतरा बताया।

–आईएएनएस

वीएवी-एसकेपी

You might also like

Comments are closed.