ऑडियो टेप मामले में प्रशांत किशोर के बचाव में उतरी तृणमूल कांग्रेस

कोलकाता, 10 अप्रैल (आईएएनएस)। तृणमूल कांग्रेस ऑडियो टेप मामले में अपने राजनीतिक रणनीतिकार प्रशांत किशोर (पीके) के खुले बचाव में उतर आई है।

पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव के बीच चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर के एक कथित ऑडियो टेप ने भूचाल ला दिया है। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के आईटी सेल के प्रमुख अमित मालवीय ने प्रशांत किशोर का पत्रकारों से क्लबहाउस चैट का एक ऑडियो जारी किया है। चैट में ममता बनर्जी का चुनावी कैंपेन संभाल रहे प्रशांत किशोर कुछ पत्रकारों से बातचीत करते हुए सुनाई दे रहे हैं।

बातचीत में प्रशांत किशोर कथित तौर पर कहते सुनाई दे रहे हैं कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पश्चिम बंगाल में बेहद लोकप्रिय हैं, जो उन तीन फैक्टर (कारक) में से एक है, जो यह तय करेगा कि कौन सा दल राज्य में विधानसभा चुनाव जीतेगा।

बता दें कि इस चैट में प्रशांत किशोर कथित तौर पर कहते हुए सुनाई दे रहे हैं कि वोट मोदी के नाम पर हैं, हिंदू होने के नाम पर है। ध्रुवीकरण, हिंदी भाषी, एससी ही चुनाव के तीन फैक्टर हैं।

तृणमूल के राज्यसभा सदस्य डेरेक ओ ब्रायन ने कहा, उन्होंने (भाजपा ने) केवल ऑडियो टेप के एक हिस्से को जारी किया है। उन्हें पूरा टेप जारी करने दें। भाजपा को चुनावों में 100 से कम सीटें मिलेंगी। अगर वे पूरी ऑडियो रिकॉडिर्ंग जारी करते हैं तो हम एक प्रेस कॉन्फ्रेंस करेंगे।

उन्होंने कहा, मैंने पूरी रिकॉडिर्ंग सुनी है। एक हिस्से में कहा जाता है कि भाजपा को 38 से 39 प्रतिशत वोट मिल रहे हैं, लेकिन यह एक सवाल के जवाह में कहा गया है, आखिर कैसे तृणमूल को 45 से 46 प्रतिशत वोट मिल रहे हैं। उन्हें पूरी रिकॉडिर्ंग जारी करने दें। वे इतने डरे हुए क्यों हैं।

तृणमूल के वरिष्ठ नेता डोला सेन ने भी भाजपा से पूरी ऑडियो रिकॉडिर्ंग जारी करने का आग्रह किया।

तृणमूल नेता ने कहा, राज्य में आठ चरण के मतदान में से, चार चरणों के चुनाव संपन्न हो गए हैं। भाजपा समझ गई है कि तृणमूल तीसरी बार सत्ता में आ रही है। अब वह सनसनी पैदा करने की कोशिश कर रही है, अन्यथा उन्हें कोई वर्कर नहीं मिलेगा।

उल्लेखनीय है कि पश्चिम बंगाल में आठ चरणों में मतदान हो रहा है। शनिवार को चौथे चरण के मतदान से पहले प्रशांत किशोर का क्लबहाउस चैट का ऑडियो वायरल हो गया। सुबह से इस मुद्दे पर चर्चा चल रही है। सोशल मीडिया पर भाजपा के आइटी सेल के प्रमुख और बंगाल भाजपा के सह-प्रभारी अमित मालवीय ने इसे साझा करते हुए लिखा है कि प्रशांत किशोर ने मान लिया है कि ममता बनर्जी हार रही हैं और भाजपा पश्चिम बंगाल में जीत रही है।

चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर ने कथित तौर पर इस बातचीत में माना है कि प्रधानमंत्री मोदी बंगाल में बहुत ही लोकप्रिय हैं।

वहीं, ऑडियो पर प्रशांत किशोर ने कहा, मुझे इस बात की खुशी है कि भाजपा के लोग अपने नेताओं के बयान से ज्यादा मेरी क्लबहाउस चैट को ज्यादा गंभीरता से ले रहे हैं। मेरी उनसे अपील है कि चैट के कुछ हिस्से को छोड़कर पूरी बातचीत को जारी करें। जो हिस्सा जारी किया गया है उसमें इस सवाल का जवाब दिया जा रहा था कि कैसे भाजपा को 40 प्रतिशत वोट मिल रहे हैं और कैसे ये सोच बन गई है कि भाजपा जीत रही है।

–आईएएनएस

एकेके/एएनएम

You might also like

Comments are closed.