उप्र : हिरासत में लिया गया मां की हत्या कर जेवरात लूटने वाला बेटा

अलीगढ़ (उत्तर प्रदेश), 22 फरवरी (आईएएनएस)। अलीगढ़ के सरोज नगर कॉलोनी में एक जौहरी के 24 साल के बेटे ने कथित तौर पर अपनी मां की हत्या कर अपने घर से एक करोड़ रुपये से अधिक का कीमती सामान लूट लिया।

आरोपी योगेश के अलावा उसके तीन साथियों को पुलिस ने रविवार को गिरफ्तार कर लिया है। इनमें दो महिलाएं भी शामिल हैं। साथ ही चुराए गए सोने, चांदी और हीरे के गहनों को भी जब्त कर लिया है।

पुलिस के मुताबिक, पेशे से जौहरी कुलदीप वर्मा के बेटे योगेश ने कॉमर्स विषय से अपने ग्रेजुएशन की पढ़ाई पूरी की है। अपने परिवार के खिलाफ जाकर सोनम नाम की एक लड़की से शादी करने के बाद पिछले छह महीने से वह अपने माता-पिता से अलग किराए के एक घर में रहता था। उसने कई बार अपनी मां कंचन से पैसे मांगे थे, लेकिन मां ने मना कर दिया।

पैसे को लेकर आ रही दिक्कतों के चलते योगेश ने अपने खुद के घर को लूटने का प्लान बनाया। इस प्लान में उसकी पत्नी सोनम, दोस्त तनुज, तनुज की गर्लफ्रेंड शेहजल चौहान शामिल थे।

शुक्रवार को योगेश ने चेकअप के लिए पहले अपनी गर्भवती पत्नी को डॉक्टर के क्लिनिक में छोड़ा और इसके बाद वह तनुज और शेहजल के साथ अपने माता-पिता के घर पर गया। उसने शेहजल को अपने घर के बाहर कुछ मीटर की दूरी पर ड्रॉप किया ताकि वह बाहर से नजर रख सके। इसके बाद कंचन ने दरवाजा खोला तो योगेश और तनुज अंदर चले गए।

पूछताछ के दौरान योगेश ने कबूल किया कि उसने अपनी मां को बताया कि वह अपने कपड़े लेने आया था और फिर मां की साड़ी से उसने उनका गला घोंट दिया। बाद में वे बॉडी को बाथरूम में घसीट कर ले गए और एक गीजर पाइप को काट कर रख दिया ताकि लोगों को यह एक दुर्घटना लगे।

इसके बाद पड़ोस में से किसी ने कंचन को बाहर से आवाज लगाने पर देखा कि घर का दरवाजा खुला हुआ है। अंदर जाकर उन्होंने कंचन को बाथरूम में बेहोशी की हालत में पाया।

उन्होंने तुरंत पुलिस को इसकी सूचना दी, जो कंचन को अस्पताल लेकर गए, जहां उसे मृत घोषित कर दिया गया। घटना के समय कंचन का पति कुलदीप वर्मा अपनी दुकान में था।

स*++++++++++++++++++++++++++++र्*ल ऑफिसर (सीओ) अनिल समानिया ने संवाददाताओं को बताया कि योगेश ने अपना अपराध कबूल कर लिया है और उसके पास से एक करोड़ रुपये की नकदी के साथ-साथ एक करोड़ रुपये की लूटी गई ज्वेलरी भी बरामद कर ली गई है।

–आईएएनएस

एएसएन-एसकेपी

You might also like

Comments are closed.