उप्र के ऊर्जा मंत्री ने केन्द्रीय ऊर्जा मंत्री को मांग पत्र सौंपा

लखनऊ, 26 जून (आईएएनएस)| उत्तर प्रदेश के ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा ने बुधवार को केन्द्रीय ऊर्जा मंत्री आर.के. सिंह से दिल्ली में भेंट की, और इस दौरान उन्होंने प्रदेश के विद्युत वितरण क्षेत्र में राज्य की जरूरतों से संबधित मांग-पत्र उन्हें सौंपा। शर्मा ने प्रदेश से केंद्र सरकार की स्मार्ट सिटी परियोजना के तहत चुने गए सभी 10 शहरों और धार्मिक पर्यटन की ²ष्टि से महत्वपूर्ण शहरों अयोध्या, मथुरा-वृंदावन, वाराणसी और प्रयागराज में अंडरग्राउंड केबलिंग की परियोजनाओं के लिए भी केन्द्र सरकार से आर्थिक मदद मांगी। साथ ही इन शहरों में बिना बाधा के 24 घंटे विद्युत आपूर्ति ‘स्काडा’ सिस्टम लागू करने की मांग की।

शर्मा ने कहा, “ग्रामीण क्षेत्रों के 3164 ग्रामीण फीडरों में से 1458 अलग किए जा चुके हैं। शेष फीडरों को भी अलग किए जाने के संबन्ध में आर्थिक संसाधन उपलब्ध कराने को कहा है। इससे किसानों को सिंचाई सुलभ होगी, साथ ही किसानों की आय दोगुनी करने का लक्ष्य पूरा हो सकेगा।”

ऊर्जा मंत्री ने कहा, “सौभाग्य योजना के तहत प्रदेश में एक करोड़ से भी ज्यादा लोगों को कनेक्शन दिये गये हैं। इसके लिए जरूरी आधारभूत ढांचे का विस्तार किया जाना अत्यन्त आवष्यक है। सौभाग्य योजना की अवधि को बढ़ाकर दिसम्बर 2019 किया जाना चाहिए। केन्द्र सरकार की मदद से ही यह संभव हो सकेगा।”

उन्होंने कहा, “अधिक लाइन हानियों वाले क्षेत्रों में अंडर ग्राउंड केबल परियोजना को मंजूरी दिए जाने की भी बात कही है। उदय योजना को भी एक वर्ष तक बढ़ाए जाने का प्रस्ताव दिया। सभी ग्रामीण और शहरी क्षेत्रों में स्मार्ट मीटर लगाए जाने, एनर्जी एफिशिएंट पम्प लगाने की गति को तेज करने की मांग की है। केन्द्रीय ऊर्जा मंत्री ने सभी मांगों को पूरा करने का अश्वासन दिया।”

 

Comments are closed.