इजरायल-हमास के बीच युद्धविराम की स्थिति नाजुक : संयुक्त राष्ट्रदूत

संयुक्त राष्ट्र, 25 जून (आईएएनएस)। संयुक्त राष्ट्र के विशेष समन्वयक टोर वेनेसलैंड ने मध्य पूर्व शांति प्रक्रिया को लेकर चेतावनी देते हुए कहा है कि पिछले महीने इजरायल और हमास के बीच मिस्र की मध्यस्थता वाले युद्धविराम की स्थिति बहुत नाजुक बनी हुई है।

उन्होंने गुरुवार को एक ब्रीफिंग में सुरक्षा परिषद को बताया, इस संबंध में संयुक्त राष्ट्र युद्धविराम को मजबूत करने, तत्काल मानवीय सहायता की पेशकश करने और गाजा में स्थिति को स्थिर करने के लिए मिस्र सहित सभी संबंधित पक्षों और भागीदारों के साथ मिलकर काम कर रहा है।

उन्होंने कहा, मैं सभी पक्षों से एकतरफा कोई फैसला लेने और उकसावे से दूर रहने, तनाव कम करने के लिए कदम उठाने और इन प्रयासों को सफल होने देने का आग्रह करता हूं। जमीनी स्तर पर स्थिति को स्थिर करने के लिए चल रही चर्चाओं को सुविधाजनक बनाने के लिए सभी को अपनी भूमिका निभानी चाहिए ताकि गाजा एक और विनाशकारी स्थिति का सामना करने से बचें।

वेनेसलैंड ने आगे कहा, संघर्ष विराम के बावजूद पिछले दो हफ्तों में पूरे कब्जे वाले फिलिस्तीनी क्षेत्र में दैनिक आधार पर हिंसक घटनाएं जारी हैं।

एक नई इजरायली बस्ती चौकी के निर्माण के खिलाफ विरोध के संदर्भ में वेस्ट बैंक में नब्लस के पास बीता गांव में कई बार झड़पें हो चुकी हैं।

11 जून इजरायली सुरक्षा बलों ने एक 16 वर्षीय फिलिस्तीनी को मार गिराया। 17 जून को एक अन्य 6 वर्षीय फिलिस्तीनी ने पिछली रात इजरायली सुरक्षा बलों द्वारा की गई फायरिंग से लगे घावों के चलते अपना दम तोड़ दिया।

उन्होंने कहा कि 3 मई के बाद से इस क्षेत्र और इसके आसपास के इलाकों में गोला-बारूद से पांच फिलिस्तीनी मारे गए हैं और लगभग 100 फिलिस्तीनी घायल हुए हैं।

15 जून को नेसेट के सदस्यों सहित कई हजार दक्षिणपंथी इजरायली कार्यकर्ताओं ने यरूशलेम के पुराने शहर में मार्च किया, जिसमें से कई लोगों ने अरबों और मुसलमानों के खिलाफ नस्लवादी नारे लगाए।

पूर्वी यरुशलम के साथ-साथ वेस्ट बैंक के अन्य हिस्सों में इस मार्च के दौरान हुई हिंसा में 12 बच्चों सहित 66 फिलिस्तीनी घायल हो गए।

उसी दिन राष्ट्रीय और इस्लामी बलों द्वारा पूरे गाजा पट्टी में रैलियों का आयोजन किया गया।

–आईएएनएस

एएसएन/एएनएम

You might also like

Comments are closed.