इंग्लैंड में गेंदबाजों का थोड़ा अधिक सम्मान देने की जरूरत : पंत

चेस्टर-ले-स्ट्रीट (डरहम), 31 जुलाई (आईएएनएस)। भारतीय क्रिकेट टीम के विकेटकीपर-बल्लेबाज ऋषभ पंत ने कहा है कि इंग्लैंड में बल्लेबाजी करते हुए क्रीज के बाहर खड़े रहना और गेंदबाजों का सम्मान करना दूसरे देशों की तुलना में महत्वपूर्ण होगा।

पंत ने बीसीसीआई डॉट टीवी को दिए एक साक्षात्कार में कहा, एक क्रिकेटर के रूप में जब आपको दुनिया भर में खेलना होता है, तो आपको कुछ चीजों का ध्यान रखना होता है। जब आप इंग्लैंड आते हैं तो आप जानते हैं कि गेंद बहुत स्विंग करने वाली है, इसलिए हां मैं क्रीज से थोड़ा बाहर से बल्लेबाजी कर रहा हूं।

पंत ने कहा, विशेष रूप से इस तरह की परिस्थितियों में क्रीज का उपयोग करना, एक महत्वपूर्ण बात है। आपको अन्य जगहों की तुलना में गेंदबाज का थोड़ा अधिक सम्मान करना होगा। यही मैं टेस्ट मैचों के दौरान करने के लिए उत्सुक हूं।

भारतीय बल्लेबाजों के लिए सबसे बड़ी चुनौती इंग्लैंड में लेटरल मूवमेंट का मुकाबला करना होगा।

21 टेस्ट मैच खेल चुके 23 वर्षीय ने अपने करियर के पहले तीन टेस्ट इंग्लैंड में खेले। उन्होंने ओवल में पांचवें और अंतिम टेस्ट की दूसरी पारी में 114 रन बनाए।

उनकी विकेटकीपिंग ने हाल के दिनों में उनके लिए काफी प्रशंसा बटोरी थी और वह टेस्ट मैचों में भारत के लिए नंबर-1 विकेटकीपर बन गए हैं।

उन्होंने आगे कहा, एक कीपर के तौर पर आप सिर्फ गेंद को देखते हैं और उस पर प्रतिक्रिया करते हैं। यही हम अभ्यास में करते हैं। बस कड़ी मेहनत का अभ्यास करते रहें और आपको मैच में परिणाम मिलेगा।

–आईएएनएस

जेएनएस

You might also like

Comments are closed.