आचार्य अत्रे नाट्यगृह में भूत भगाने के नाम पर पूजा करनेवाला तांत्रिक गिरफ्तार

पिंपरी | पुणे समाचार

पिंपरी स्थित आचार्य अत्रे नाट्यगृह में भूत भागने के नाम पर पूजा करनेवाले तांत्रिक को पिंपरी पुलिस ने गिरफ्तार किया है. अंधश्रद्धा को बढ़ावा देनेवाले और तीन लोगों को भी गिरफ्तार किया गया है, जिसमें एक व्यक्ति अबतक फरार है. चारों को कोर्ट में पेश किया गया था, कोर्ट ने एक दिन की पुलिस कस्टडी सुनायी है.  गिरफ्तार किए गए ठेकेदार सहित तांत्रिक (मजदूर) का भी समावेश है.

तांत्रिक अमर गोवर्धन चौधरी (उम्र 51, निवासी दिघी रोड, भोसरी), शशिकांत गणेश चौहान (उम्र 35, निवासी भोसरी), अरुण अनुप्रसाद चौहान (उम्र 51) और ठेकेदार आनंद निर्मलसिंह गिल (उम्र 32, निवासी निगडी प्राधिकरण) को गिरफ्तार किया गया है. इस घटना में श्रीकांत कुमार नामक मजदूर अबतक फरार है. पुलिस उसकी तलाश कर रही है. इस मामले में पिंपरी चिंचवड नगरनिगम के इंजीनियर ने शिकायत दर्ज करवायी है.

पुलिस द्वारा दी गई जानकारी अनुसार आचार्य अत्रे नाट्यगृह में पिछले कुछ दिनों से नवीनीकरण का काम शुरु था, लेकिन एक अंधरे कोने में काम करने के दौरान कुछ मजदूरों को यह वहम हुआ कि एक औरत यहां आओ ऐसी आवाज दे रही है और उसकी चूड़ियों की आवाज आने का वहम कुछ मजदूरों को हुआ था. जिसकी वजह से मजदूर वहां से डर के भाग खड़े हुए थे. दूसरे दिन उन्हीं मजदूरों में एक ने भूत भगाने के लिए पूजा की थी, जिसका वीडियो वायरल हुआ था. काम बंद होने के बाद फिर से काम पूजा करने के बाद शुरू किया गया था. यह सभी घटना जनवरी 2018 में घटी थी. वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद संबंधित आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज करके गिरफ्तार किया गया. आगे की जांच पिंपरी पुलिस स्टेशन के सीनियर पुलिस इंस्पेक्टर श्रीधर जाधव कर रहे हैं.

You might also like

Comments are closed.