आग के खतरे के बीच इस्तांबुल ने जंगल में एंट्री पर लगाया बैन

इस्तांबुल, 31 जुलाई (आईएएनएस)। तुर्की के सबसे बड़े शहर इस्तांबुल ने बढ़ते आग के खतरे को देखते हुए अपने वन क्षेत्रों में प्रवेश पर प्रतिबंध लगा दिया है।

समाचार एजेंसी सिन्हुआ की रिपोर्ट के अनुसार, इस्तांबुल के गवर्नर अली येरलिकाया ने शुक्रवार को ट्विटर पर घोषणा की कि प्रतिबंध 31 अगस्त तक प्रभावी रहेगा, क्योंकि शहर में तेज हवाओं के साथ उच्च तापमान के लिए हाई अलर्ट पर है।

येरलिकाया ने कहा, जंगलों में प्रवेश करना, अंदर और आसपास रुकना और पिकनिक मनाना मना है।

कई अन्य प्रांतों में स्थानीय अधिकारियों ने देश भर में चल रहे जंगल की आग को देखते हुए इसी तरह के प्रतिबंध लगाए हैं।

कुछ क्षेत्रों में प्रतिबंध की समय सीमा सितंबर तक बढ़ा दी गई है।

तुर्की बुधवार से 20 से अधिक प्रांतों में कई धमाकों से जूझ रहा है, जिसने अब तक कम से कम चार लोगों की जान ले ली है और 180 से अधिक घायल हो गए हैं।

मुगला प्रांत के तटीय शहर मारमारिस में आग पर काबू पाने के लिए दमकलकर्मी कड़ी मशक्कत कर रहे हैं।

प्रेस रिपोटरें में कहा गया है कि एक राजमार्ग जो मारमारिस को मुगला के एक अन्य रिसॉर्ट शहर, दत्का से जोड़ता है, आग की लपटों के बाद यातायात के लिए बंद कर दिया गया था।

मरमारिस के मेयर मेहमत ओकटे ने निवासियों से सड़कों पर नहीं उतरने का आह्वान किया, जब तक कि यह चिकित्सा टीमों और आग बुझाने वाले वाहनों के लिए बिल्कुल आवश्यक न हो।

–आईएएनएस

एचके/एएनएम

You might also like

Comments are closed.