अमिताभ बच्चन नहीं मानते हैं खुद को दादासाहेब के काबिल

मुंबई, 26 सितम्बर (आईएएनएस)| मेगास्टार अमिताभ बच्चन को हाल ही में दादासाहेब फाल्के पुरस्कार से सम्मानित कि या जाने का ऐलान किया गया है, इस बात से वह खुश तो हैं, लेकिन वह खुद को इस अवॉर्ड के काबिल नहीं मानते हैं। अमिताभ ने अपने ब्लॉग में अपने इन्हीं भावनाओं का जिक्र किया।

उन्होंने लिखा, “दादासाहेब फाल्के अवॉर्ड मिलने की घोषणा के पल से जो प्यार और सराहना मिल रही हैं उनसे मैं विनम्र रहा हूं..यह आपको बर्फ के एक खंड में सुन्न कर देता है जिसे युगों से इसके पिघलने की गर्मी से दूर रखा गया है..ठंडा, सूखा और जकड़ा, इसके होने पर आप कुछ ऐसा ही महसूस करते हैं, फिर आप इसे मानने लगते हैं और इसकी उपस्थिति, मूल्य और वितरण को समझना शुरू कर देते हैं।”

उन्होंने आगे कहा, “मैं इस बात से इंकार नहीं कर सकता हूं कि इससे मैं थोड़ा सा झिझक भी रहा हूं..जब आप खुद को इसके लायक बिल्कुल नहीं समझते हैं या शायद जिन्होंने इस पर निर्णय लिया है इसे उनके द्वारा की गई एक गलती मानते हैं।”

दादासाहेब फाल्के अवॉर्ड सिनेमाई कला के क्षेत्र में दिया जाने वाला भारत का सर्वोच्च पुरस्कार है। पीढ़ियों को अपने विविध कार्यो से प्रेरित करते रहने के लिए उन्हें इससे सम्मानित किया जाएगा।

केंद्रीय सूचना और प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने मंगलवार को इस खबर की घोषणा करते हुए ट्विटर पर लिखा, “पूरा देश और अंतर्राष्ट्रीय समुदाय खुश है। मेरी तरफ से उन्हें इसकी हार्दिक बधाई।”

 

You might also like

Comments are closed.